स्वर्णिम युग की वापसी का भरोसा

मीडिया प्लेयर

इस ऑडियो/वीडियो के लिए आपको फ़्लैश प्लेयर के नए संस्करण की ज़रुरत है

किसी और ऑडियो/वीडियो प्लेयर में चलाएँ

दिल्ली में होने वाले राष्ट्रमंडल खेलों में लोगों की नज़रें भारत के राष्ट्रीय खेल हॉकी पर भी रहेंगी. भारत में ही इस साल की शुरुआत में हॉकी विश्व कप का आयोजन किया गया था.

उस टूर्नामेंट में हालाँकि भारत का प्रदर्शन कुछ ख़ास उल्लेखनीय नहीं रहा था मगर भारतीय हॉकी टीम के कप्तान राजपाल सिंह मानते हैं कि भारत में हॉकी खेलने वालों और देखने वालों का उत्साह अब भी बरक़रार है.

बीबीसी हिंदी की विशेष शृंखला 'नज़र मेडल पर' के सिलसिले में बीबीसी हिंदी संवाददाता पवन नारा जब उनसे मिलने चंडीगढ़ पहुँचे तो राजपाल ने उम्मीद जताई दर्शकों का प्यार बने रहने की.

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.