गेंदबाज़ों पर अत्यधिक दबाव- धोनी

महेंद्र सिंह धोनी
Image caption धोनी ने कहा गेंदबाज़ों पर बल्लेबाज़ों की तुलना में अधिक दबाव रह रहा है

न्यूज़ीलैंड के हाथों पहले मैच में 200 रन से पिटनेवाली धोनी की टीम कल त्रिकोणीय प्रतियोगिता के दूसरे मैच में श्रीलंका का सामना करेगी.

दाम्बुला में मैच से एक दिन पहले भारतीय कप्तान ने कहा कि चोट से जूझ रहे भारतीय गेंदबाज़ों पर बल्लेबाज़ों की तुलना में ज़रूरत से ज़्यादा दबाव है.

श्रीलंका दौरे के दौरान खिलाड़ियों के चोट के कारण भारतीय गेंदबाज़ी पर गहरा असर पड़ा है.

कंधे की चोट के कारण ज़हीर ख़ान टीम में नहीं हैं, जबकि ईशांत शर्मा और आशीष नेहरा भी चोटग्रस्त हैं और श्रीलंका के ख़िलाफ़ मैच में उनके खेलने पर संदेह है.

गेंदबाज़ों के बारे में धोनी ने कहा,"गेंदबाज़ों पर ज़रूरत से अधिक दबाव है, ख़ासतौर से उनपर जो कि टेस्ट मैच भी खेल रहे हैं और वनडे भी.

"इससे उनकी क्षमता पर असर पड़ता है. बल्लेबाज़ों के साथ ऐसा नहीं है."

धोनी ने कहा कि खिलाड़ियों को बीच-बीच में आराम करवाकर उन्हें चोट से बचाया जा सकता है.

मनोबल ठीक-ठाक

पिछले मैच में मिली शर्मनाक हार का ज़िक्र आने पर कप्तान धोनी ने कहा कि भारतीय टीम ने पिछले दिनों आराम किया है जिससे लाभ होना चाहिए.

उन्होंने कहा,"पिछले कुछ दिन हमने आराम किया. मुझे नहीं लगता कि हमारे मनोबल पर कोई वैसा असर पड़ा है. मगर हाँ वो हार बहुत ही निराशाजनक थी."

भारतीय क्रिकेट टीम के लिए इस बार श्रीलंका दौरा अभी तक बहुत ही अधिक निराशाजनक रहा है.

भारतीय टीम श्रीलंका के विरूद्ध तीन टेस्ट मैचों की सिरीज़ को किसी तरह 1-1 से बराबर करवा सकी.

टेस्ट सिरीज़ के बाद श्रीलंका में ही त्रिकोणीय प्रतियोगिता में भारत अपने पहले ही मैच में न्यूज़ीलैंड से 200 रन से हार गया.

संबंधित समाचार