राष्ट्रमंडल खेलों की समीक्षा कर रहे हैं फ़ेनेल

तैयारियाँ अधूरीं

राष्ट्रमंडल खेल महासंघ के अध्यक्ष माइक फ़ेनेल दिल्ली में राष्ट्रमंडल खेलों की तैयारियों का जायजा ले रहे हैं.

राष्ट्रमंडल खेल में अब छह सप्ताह का समय बाकी रह गया है और उसमें भ्रष्टाचार और तैयारियों में देरी के आरोप लग रहे हैं.

इसके पहले भ्रष्टाचार और अनियमितता के आरोपों के बाद राष्ट्रमंडल खेलों की आयोजन समिति ने अपने तीन अधिकारियों को निलंबित कर दिया था.

इसमें आयोजन समिति के संयुक्त निदेशक टीएस दरबारी, लेखा विभाग के संयुक्त निदेशक एम जयचंद्रन और समिति के सलाहकार संजय महेंद्रू शामिल हैं.

इसके साथ ही ऑस्ट्रेलियाई कंपनी स्पोर्ट्स मार्केटिंग एंड मैनेजमेंट (स्मैम) के साथ क़रार ख़त्म कर दिया गया था जिस पर प्रायोजक लाने की ज़िम्मेदारी थी.

नित नए आरोप

इस कंपनी के बारे में ख़बरें प्रकाशित हुई थीं कि इस कंपनी को कमीशन के रूप में मोटी रकम देने का क़रार किया गया है.

Image caption माइक फेनेल ने पहले भी तैयारियों में देरी पर चिंता जताई थी

इससे पहले टेनिस के ठेकों को लेकर आरोपों के बाद आयोजन समिति के कोषाध्यक्ष अनिल खन्ना ने इस्तीफ़ा दे दिया था

ग़ौरतलब है कि इसके पहले भी माइक फ़ेनेल ने धीमी तैयारियों पर चिंता जताई थी.

फ़ेनेल ने नेहरू स्टेडियम और एसपी मुखर्जी तैराकी परिसर के निर्माण कार्य में हो रही देरी पर गंभीर थे.

नेहरू स्टेडियम में ही दिल्ली राष्ट्रमंडल खेल के उदघाटन और समापन समारोह आयोजित होने हैं.

फ़ेनेल ने तैयारियों की सुस्त चाल पर चिंता जताते हुए एक पैनल के गठन का प्रस्ताव रखा था. लेकिन आयोजन समिति और भारतीय ओलंपिक संघ के अध्यक्ष सुरेश कलमाड़ी ने इसका विरोध किया था.

संबंधित समाचार