मोहाली में तैयार हो रहा है छोटा शेरा

  • 24 अगस्त 2010

राष्ट्रमंडल खेलों का शुंभकर शेरा अब चंडीगढ़ के पास बने मोहाली शहर पहुँच गया है या कहें कि छोटा शेरा मोहाली पहुँच गया है.

दरअसल शुभंकर का छोटा मॉडल, जो अकसर अति विशिष्ट अतिथियों और अधिकारियों को दिया जाता है, इनदिनों मोहाली में तैयार हो रहा है. अबनिंदर सिंह गरेवाल को इसका टेंडर मिला है और वो खेलों से पहले ये छोटे मॉडल तैयार करने में जुटे हैं.

ये मॉडल छह इंच लंबा होगा और इसका काले रंगा का डिब्बे हाथ से बनाया जा रहा हैं. डिब्बों का निर्माण लुधियाना में हो रहा है.

अबनिंदर सिंह मूलत खेती-बाड़ी करते थे और कला उनका शौक था. फिर धीरे-धीरे उनका ये शौक पेशे में तब्दील हो गया. पंजाब सरकार के हथकरघा और शिल्पहस्त एंपोरियम फ़ुलकारी के लिए वे कई तरह के उत्पाद बनाते हैं. उन्होंने अपने टेंडर में 650 रुपए की कीमत डाली थी.

विशेष शेरा

वे कहते हैं, “बहुत देर से ही मेरे मन में ये बात थी कि राष्ट्रमंडल के मैस्कट शेरा का छोटा मॉडल अगर बनाने का मौका आएगा तो मैं ये काम करना चाहूँगा. कई कंपनियों ने टेंडर डाला था. मैने भी अपना डिज़ाइन भेजा जिसे पसंद किया. मेरी कोशिश थी कि कीमत ठीक-ठाक हो. पर मुझे इस बात की जानकारी नहीं थी कि मॉ़डल के बक्से की कीमत भी शामिल करनी थी जो 100-150 रुपए का बनता है.”

अबिनंदर के मुताबिक इस वजह से वो शायद बहुत मुनाफ़ा न कमा पाएँ पर वे फ़क्र महसूस करते हैं कि पंजाब से कृषि जगत से जुड़े एक व्यक्ति को अंतरराष्ट्रीय खेल प्रतिस्पर्धा का काम करने का अवसर मिल पाया है.

ये छोटा शेरा फिलहाल सीमित संख्या में ही बनाया जाएगा और माँग के मुताबिक संख्या बढ़ाई जाएगी.

वैसे राष्ट्रमंडल खेलों से जुड़े अन्य सामान बनाने का ठेका जिस कंपनी को मिला था उसने अनुबंध समाप्त कर दिया है.वो सामान बाज़ार में अभी तक लॉन्च नहीं हुआ है.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार