राष्ट्रमंडल खेलों के समापन की घड़ी

राष्ट्रमंडल खेलों का समापन गुरुवार को हो रहा है. दिल्ली के जवाहरलाल स्टेडियम में दो घंटे तक चलने वाले समापन समारोह पर लोगों की निगाहें टिकी हुईं हैं.

समापन समारोह को लेकर सुरक्षा के कड़े इंतज़ाम किए गए हैं. समारोह की सुरक्षा में हज़ारों पुलिस और अर्द्धसैनिक बलों को तैनात कर दिए गए हैं.

साथ ही दिल्ली के कई क्षेत्रों में आवाजाही को प्रतिबंधित कर दिया गया है.

उदघाटन समारोह में भारत की सांस्कृतिक विरासत को दिखाया गया था और कहा जा रहा है कि समापन समारोह में भी भारत का हर रंग देखने को मिलेगा.

समापन समारोह के मुख्य अतिथि श्रीलंका के राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे हैं.

समापन समारोह की शुरूआत शाम सात बजे होगी. इसको भारत के उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी, प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह,ब्रिटेन के प्रिंस एडवर्ड और राष्ट्रमंडल खेल संघ के अध्यक्ष माइकल फ़ेनेल संबोधित करेंगे.

भारत का प्रदर्शन

राष्ट्रमंडल खेल ख़त्म होने से एक दिन पहले भारत ने दो स्वर्ण पदक जीते.

Image caption रहमान ने उदघाटन समारोह में कार्यक्रम पेश किया था

टेबल टेनिस में भारत को 33वां स्वर्ण पदक मिला जबकि बाकी तीन पदक बॉक्सिंग में मिले. भारत के कुल 36 स्वर्ण पदक मिल चुके हैं.

बॉक्सिंग में 52 किलोग्राम वर्ग में भारत के सुरंजॉय के प्रतिदंद्वी फ़ाइनल मुकाबले में उतरे ही नहीं जिसके बाद सुरंजॉय को विजेता घोषित कर दिया गया.

वहीं मनोज कुमार ने इंग्लैंड के सॉर्डंस ब्रेडली को दो के मुकाबले 11 अंकों से हराकर स्वर्ण पर कब्ज़ा किया. तीसरा स्वर्ण पदक परमजीत समोटा ने दिलाया.

टेबल टेनिस में पुरुषों के डबल्स फ़ाइनल में भारत के अंचता शरद कमल और शुभाजीत साहा ने सिंगापुर की जोड़ी को हराया.

निशानेबाज़ी में महिलाओं की 10 मीटर एयर पिस्टल एकल स्पर्द्धा में हिना सिद्धू को रजत मिला है.

समरेश जंग को 25 मीटर स्टैंडर्ड पिस्टल इवेंट में कांस्य पदक मिला. बैडमिंटन में पी कश्यप ने पुरुषों का कांस्य पदक जीता.

संबंधित समाचार