राजस्थान रॉयल्स ने अपनाया क़ानूनी रास्ता

राजस्थान रॉयल्स ने कहा है कि उसने बीसीसीआई के उस फ़ैसले के ख़िलाफ़ याचिका दायर की है जिसमें आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स के साथ फ़्रेंचाइज़ी क़रार ख़त्म करने का फ़ैसला लिया गया था.

रॉयल्स के प्रवक्ता ने कहा, "हमने बीसीसीआई के साथ मिलने की कोशिश की थी ताकि ये समझ सकें कि क़रार क्यों ख़त्म किया गया. हम ये नहीं समझ पा रहे कि आख़िर हमने क्या ग़लत किया. इसलिए आईपीएल फ़ैन्स, अपने कर्मचारियों, खिलाड़ियों और सहयोगियों के प्रति हमारा फ़र्ज़ है कि हम इस मामले में कुछ करें. इससे ज़्यादा कुछ नहीं कहना चाहते क्योंकि मामला अदालत में है."

कुछ दिन पहले मुंबई में आईपीएल की गवर्निंग काउंसिल की आपातकालीन बैठक हुई थी. इसमें राजस्थान रॉयल्स और किंग्स एलेवन पंजाब की टीमों की फ़्रेंचाइज़ी कंपनियों के साथ क़रार ख़त्म कर दिया गया था.

ये कहा गया था कि क़ानूनी सलाह के आधार पर राजस्थान रॉयल्स और किंग्स एलेवन पंजाब के साथ समझौतों को रद्द किया जा रहा है क्योंकि इन दो टीमों ने 'बीसीसीआई के साथ हुए समझौतों का उल्लंघन' किया है.

29 सितंबर को इन तीनों फ्रेंचाइज़ी को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया था.

संबंधित समाचार