बीबीसी फन एंड गेम्स

चीन में हो रहे हैं एशियाई खेल
Image caption चीन के शहर ग्वांगजो में सोलहवें एशियाई खेलों का आयोजन किया जा रहा है

इस हफ्ते 12 नवम्बर से चीन के ग्वांगजो में शुरू हो गए हैं एशियाई खेल. ये सोलहवें एशियाई खेल हैं. इन खेलों में 45 देश हिस्सा ले रहे हैं.

हाल ही में हुए राष्ट्रमंडल खेलों में भारतीय खिलाड़िओं का प्रदर्शन प्रशंशाजनक रहा. और ज़ाहिर है की इन खिलाडियों पर अब एशियाई खेलों में भी अच्छा करने के जिम्मेदारी बढ गयी है.

एशियन गेम्स में पहली बार महिला मुक्केबाजी को शामिल किया गया है. और पांच बार की विश्व चैम्पियन मेरी कोम को इस बात की बहुत ख़ुशी है.

मेरी कहती हैं कि उनकी पूरी कोशिश है की वो यहाँ भी स्वर्ण पदक जीते. जहाँ एक तरह मेरी को अपनी काबिलियत पर यकीं हैं वहीँ उन्हें थोडा डर भी है.

मेरी कहती हैं कि वो डरती हैं की कहीं अगर वो अपने देश के लिए स्वर्ण नहीं जीत पायी तो क्या होगा. लोग क्या कहेंगे? इस बार मेरी 51 किलो ग्राम वर्ग में खेलेंगी.

बीबीसी कि ओर से इन खलों को कवर करने के लिए ग्वांगजो में मौजूद हैं बीबीसी स्पोर्ट्स एडिटर मुकेश शर्मा.

मुकेश कहते हैं कि चीन ने इन खलों के आयोजन में कोई कसर नहीं छोड़ी है. भारतीय दल के बारे में मुकेश कहते हैं कि दल में उत्साह कि कमी नहीं है. और हर कोई बस कुछ कर गुजरने को तैयार है.

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा
Image caption इस हफ्ते सुशील कुमार ने गुरु सतपाल की बेटी सवी से सगाई की.

कार्यक्रम में आप सुन सकते हैं विश्व चैम्पियन कुश्तीबाज़ सुशील कुमार को भी.

सुशील ने इस हफ्ते की शुरुआत में गुरु सतपाल की बेटी सवी से सगाई की है. सुशील कहते हैं कि ये फैसला उन्होंने अपने परिवार के आदेश पर लिया है.

सुशील कहते हैं हमेशा से ही गुरु सतपाल से उन्हें बहुत प्यार मिला है. सवी के बारे में सुशील कहते हैं की क्यूंकि सवी का परिवार भी खेलों से जुड़ा है तो इसलिए वो उन्हें बेहतर तरीके से समझ सकते हैं.

सुशील के साथ साथ कार्यक्रम में हैं क्रिकेटर हरबजन सिंह भी. हरबजन ने भारत और न्यूज़ीलैंड के बीच हुए पहले टेस्ट मैच में अपने करियर का पहला टेस्ट शतक लगाया.

अपने इस शतक का श्रेय हरबजन ने दिया साथी खिलाडी वी वी एस लक्ष्मण को. हरबजन कहते हैं कि लक्ष्मण ने उन्हें इस शतक के लिए प्रेरित किया.

हरबजन ये भी कहते हैं कि अब वो चाहते हैं कि एक दिवसीय क्रिकेट में वो अपने बल्लेबाजी़ के क्रम में सुधर करें.

संबंधित समाचार