अब डरबन में डब्बा बंद?

  • 26 दिसंबर 2010
डेल स्टेन

डेल स्टेन की धमाकेदार गेंदबाज़ी के कारण टेस्ट सिरीज़ बराबर करने की भारत की कोशिश को तगड़ा झटका लगा है.

डरबन में दक्षिण अफ़्रीका के ख़िलाफ़ दूसरे टेस्ट के पहले दिन का खेल जब ख़राब रोशनी के कारण रोका गया, उस समय भारत का स्कोर था छह विकेट पर 183 रन.

कप्तान महेंद्र सिंह धोनी 20 और हरभजन सिंह 15 रन बनाकर नाबाद थे. उछाल वाली डरबन की पिच पर बारिश के कारण मैच देर से शुरू हुआ.

टॉस जीतकर दक्षिण अफ़्रीका के कप्तान ग्रैम स्मिथ ने भारत को बल्लेबाज़ी के लिए उतारा. गौतम गंभीर की ग़ैर मौजूदगी में वीरेंदर सहवाग के साथ पारी की शुरुआत करने पहुँचे मुरली विजय शुरू से ही परेशान रहे.

परेशान

लेकिन पहला विकेट गिरा वीरेंदर सहवाग का. सहवाग चार चौकों की मदद से 25 रन बनाकर आउट हुए. उस समय भारत का स्कोर था 43 रन.

जल्द ही मुरली विजय भी पवेलियन लौट गए. उन्होंने 19 रन बनाए. सचिन तेंदुलकर 13 और राहुल द्रविड़ 25 रन बनाकर आउट हुए.

वीवीएस लक्ष्मण अच्छा खेल रहे थे लेकिन टोटोबे ने उनका शानदार कैच लपका और वे 38 रन बनाकर आउट हुए. अपने करियर का दूसरा टेस्ट खेल रहे चेतेश्वर पुजारा 19 रन ही बना पाए.

डेल स्टेन ने बेहतरीन गेंदबाज़ी की और 36 रन देकर चार विकेट लिए. जबकि टोटोबे ने दो विकेट चटकाए.

ख़राब रोशनी के कारण चायकाल के बाद सिर्फ़ 16 मिनट का ही खेल हो सका और मैच रोकना पड़ा.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार