कांटे की टक्कर में भारत एक रन से जीता

  • 16 जनवरी 2011
युवराज सिंह

जोहानेसबर्ग में हुए दूसरे वनडे मैच में भारत ने दक्षिण अफ़्रीका को एक रन से हरा दिया है. अब पांच मैचों की ये एक दिवसीय श्रृंखला एक-एक से बराबर हो गई है.

भारतीय जीत के हीरो रहे मुनाफ़ पटेल. मुनाफ़ ने आठ ओवरों 29 रन देकर चार विकेट झटके. मुनाफ़ पटेल को अपने शानदार प्रदर्शन के लिए 'मैन ऑफ़ द मैच' का ख़िताब दिया गया.

तस्वीरों में देखिए कैसा जीता भारत

इसके अलावा कप्तान महेंद्र सिंह धोनी मैदान पर लगातार गेंदबाज़ों को बदलते रहे और लगभग टी20 के अंदाज़ में एक-एक या दो-दो ओवरों के स्पेल करवाते रहे. और आख़िर में ये रणनीति काफ़ी कारगर सिद्ध हुई.

टॉस जीतकर पहले बैटिंग करने आई भारतीय टीम 48वें ओवर में 190 रन बनाकर आउट हो गई.

ओपनिंग करने उतरे मुरली विजय और सचिन तेंदुलकर की जोड़ी 21 रन ही जोड़ पाई थी कि मुरली विजय सोटसोबे की गेंदपर मोर्नी मॉर्केल को कैच थमा बैठे.

इसके बाद सचिन तेंदुलकर और विराट कोहली एक अच्छी साझेदारी की ओर बढ़ रहे थे लेकिन अभी ये साझेदारी 42 रन की ही हुई थी कि 22 रन बनाकर रन आउट हो गए.

इसके कुछ देर बाद सचिन तेंदुलकर भी 24 रन बनाकर पैवेलियन लौट गए.

धोनी और युवराज की साझेदारी

Image caption युवराज सिंह और महेंद्र सिंह धोनी ने 83 रनों की साझेदारी बनाई.

लड़खड़ाती भारतीय पारी को संभाला युवराज सिंह और महेंद्र सिंह धोनी की जोड़ी ने. दोनों ने सधी हुई बैटिंग करते हुए टीम को धीरे-धीरे एक सम्मानजनक स्कोर की तरफ़ बढ़ाना शुरू किया.

युवराज सिंह ने चार चौक्कों की मदद से अर्धशतक लगाया और लगने लगा कि अब भारत एक अच्छा स्कोर खड़ा कर पाएगा लेकिन तभी युवराज सोतसोबे की गेंद पर डेल स्टेन को कैच थमा बैठे.

युवराज सिंह और महेंद्र सिंह धोनी ने चौथे विकेट के लिए 83 रन जोड़े. इसके बाद भारतीय पारी पूरी तरह से बिखर गई.

भारत के अगले छह विकेट सिर्फ़ 40 रनों का योगदान दे पाए और सारी टीम 190 रन बनाकर आउट हो गई.

दक्षिण अफ़्रीकी गेंदबाज़ी आक्रमण के हीरो रहे लोनवाबो सोतसोबे रहे. सोतसोबे ने दस ओवरों में 22 रन देकर चार विकेट झटके.

कप्तान की पारी

Image caption दक्षिण अफ़्रीका के कप्तान ग्रेम स्मिथ ने 77 रन बनाए.

ज़ाहिर 190 का स्कोर नाकाफ़ी था लेकिन भारत ने बढ़िया गेंदबाज़ी और चतुर कप्तानी के सहारे मैच अपना नाम किया.

इसके बाद बल्लेबाज़ी करने उतरी दक्षिण अफ़्रीकी टीम ने हाशिम अमला के रूप में अपना पहला विकेट सात रन पर ही खो दिया लेकिन उसके बाद कप्तान ग्रेम स्मिथ और कॉलिन इंग्राम ने पारी को संभाला.

ग्रेम स्मिथ मुनाफ़ पटेल की गेंद पर 77 रन बनाकर आउट हुए.

स्मिथ के आउट होने के बाद भारत ने मैच पर पकड़ थोड़ी मज़बूत की. ज़हीर ख़ान की शानदार गेंदबाज़ी ने दक्षिण अफ़्रीका के बल्लेबाज़ों पर नकेल कसी और योहान बोथा को मात्र चार रन पर आउट कर दिया.

दक्षिण अफ़्रीका की आठवीं विकेट गिरी डेल स्टेन की. जैसे ही डेल स्टेन छह रन बनाकर 'रन आउट' हुए, मैच बेहद दिलचस्प हो गया.

आठ विकेट गिरने के बावजूद वेयन पार्नेल और मोर्ने मॉर्केल ने हिम्मत नहीं हारी, लेकिन मुनाफ़ पटेल के इरादे कुछ और ही थे.

लगातार बढ़ते तनाव के बावजूद मुनाफ़ पटेल ने अपना संयम बनाए रखा और पार्नेल और मोर्ने मॉर्केल को आउट कर भारत को एक रन से एक प्रसिद्ध जीत दिलवाई.

अब इस वनडे सीरिज़ का काफ़िला केप टाउन का रुख़ करेगा जहां मंगलवार को तीसरा वनडे मैच खेला जाएगा.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार