'विपक्षी टीमें हमें कमज़ोर न समझें'

  • 13 फरवरी 2011
शाहिद आफ़रीदी इमेज कॉपीरइट BBC World Service

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के कप्तान शाहिद आफ़रीदी ने विपक्षी टीमों को चेतावनी दी है कि उनकी टीम को किसी स्थिति में भी कमज़ोर न समझा जाए.

बांग्लादेश की राजधानी ढाका में आयोजित एक प्रेस कांफ्रेस में आफ़रीदी ने माना कि मैच-फ़िक्सिंग विवाद ने पाकिस्तान को नुक़सान पहुंचाया है. लेकिन उनका कहना था कि उनके खिलाड़ियों के हौसले बुलंद हैं.

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के खिलाड़ी अपना खोया हुआ गौरव वापस हासिल करना चाहते हैं इसलिए वे इस प्रतियोगिता में जीत के लिए बेताब हैं.

याद रहे कि हाल ही में पाकिस्तान के तीन खिलाड़ी सलमान बट, मोहम्मद आसिफ़ और मोहम्मद आमिर पर स्पॉट फ़िक्सिंग मामले में आईसीसी ने पाबंदी लगा दी है. इन तीनों में से हर एक पर कम से कम पांच साल की पाबंदी लगाई गई है.

शाहिद आफ़रीदी ने कहा, "हम इस वक़्त बहुत ही दुश्वार परिस्थिति से गुज़र रहे हैं. लेकिन मुझे ख़ुशी है कि टीम का हौसला बुलंद है और टीम अच्छा प्रदर्शन करेगी."

उन्होंने कहा, "हमें मालूम है कि वर्ल्ड कप हमारे लिए और देश के लिए कितना अहम है. विपक्षी टीमों के लिए एक ही पैग़ाम है कि हमें कमतर न समझें."

मैच

पाकिस्तान की टीम वर्ल्ड कप के वार्म अप मैच बंग्लादेश और इंग्लैंड के साथ खेलेगी.

विश्व कप के लिए पाकिस्तान का पहला मैच कीनिया के साथ 23 फ़रवरी को श्रीलंका के शहर हमबनटोटा में है.

आफ़रीदी ने कहा, "टीम में नए और अनुभवी खिलाड़ियों का अच्छा कंबीनेशन है. कामरान अकमल की वापसी अच्छी बात है और मिसबाहुल हक़ और यूनिस ख़ान दोनों ही अच्छे फ़ॉर्म में हैं."

उन्होंने कहा, "हम अपनी गेंदबाज़ी से भी संतुष्ट हैं. हमारे पास दो अच्छे स्पिनर के साथ कई अच्छे तेज़ गेंदबाज़ हैं, ख़ास तौर से शोएब अख़्तर."

आफ़रीदी ने कहा कि हमारे समर्थक विश्व कप में वास्तव में एक बेहतर पाकिस्तानी टीम देखेंगे.

उन्होंने कहा कि मैनेजर इंतिख़ाब आलम और कोच वक़ार यूनिस ने इस मुश्किल घड़ी में टीम का मनोबल बनाए रखा है.

संबंधित समाचार