जीतने की आदत डालिए:अफ़रीदी

शाहिद अफ़रीदी इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption शाहिद अफ़रीदी टीम का मनोबल बरक़रार रखना चाहते हैं

पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के कप्तान शाहिद अफ़रीदी ने कहा है कि टीम को विश्व कप में आगे तक जाने के लिए जीतने की आदत डालनी पड़ेगी.

शाहिद अफ़रीदी ने अपनी टीम के खिलाड़ियों से ये भी कहा कि वे जीत हार से आँख मिचौली न करते हुए समान रूप से एक ही लय में खेलने कि आदत डालें.

विश्व कप शुरू होने से पहले पाकिस्तान टीम कप्तानी की बागडोर और मैच में फिक्सिंग के आरोपों से जूझ रही थी.

लेकिन विश्व कप शुरू होते ही शाहिद अफ़रीदी के नेतृत्व वाली ये टीम कीनिया और श्रीलंका को हराकर ग्रुप ए में शीर्ष स्थान पर पहुँच गई है.

पाकिस्तान का अगला मैच कनाडा के खिलाफ़ होना है और शाहिद अफ़रीदी ने टीम को अपनी जीत की लय बनाए रखने को कहा है.

अफ़रीदी ने कहा, "हमें जीतने की लय बरकरार रखने होगी. ख़ासतौर पर इसलिए भी क्योंकि हम इसके लिए जाने नहीं जाते. अभी इस प्रतियोगिता में एक लंबा सफ़र तय करना है."

गेंदबाज़ की कमी

Image caption इमरान ख़ान, पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेट कप्तान

इस बीच 1992 का विश्व कप जीतने वाली पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के कप्तान इमरान ख़ान ने कहा है कि भले ही टीम अपने शुरूआती दो मैच जीत गई हो लेकिन प्रतियोगिता के अगले चरण में मुश्किल हो सकती है क्योंकि पाकिस्तान की टीम में एक गेंदबाज़ की कमी है.

इमरान ख़ान ने कहा है कि वे इस मसले पर कप्तान शाहिद अफ़रीदी और टीम के कोच वक़ार यूनुस से बात करेंगे.

इमरान ख़ान ने पत्रकारों से कहा,"अभी तक हमारे गेंदबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया है. पर मुझे लगता है कि आगे के कठिन मैचों के लिए किसी एक बल्लेबाज़ के स्थान पर एक विशेषज्ञ गेंदबाज़ को खिलाने की ज़रुरत पड़ेगी."

क्रिकेट से राजनीति तक का सफर तय करने वाले इमरान ख़ान ने ये भी कहा है कि पाकिस्तान की टीम के लिए इस विश्व कप को जीतना ज़रूरी इसलिए भी है क्योंकि इस जीत से पाकिस्तान क्रिकेट पर छाए हुए सभी विवाद ख़त्म हो जाएंगे और विदेशी टीमें पाकिस्तान का दौरा शुरू कर सकती हैं.

संबंधित समाचार