बांग्लादेश ने इंग्लैंड को धूल चटाई

  • 11 मार्च 2011
बांग्लादेश इमेज कॉपीरइट AFP

विश्व कप के एक मैच में बांग्लादेश की टीम ने बड़ा उलटफेर किया है. चटगाँव में हुए एक रोमांचक मैच में उसने इंग्लैंड को दो विकेट से हरा दिया है.

बांग्लादेश की टीम को जीत के लिए 226 रनों का लक्ष्य मिला था, जो उसने 49 ओवर में आठ विकेट के नुक़सान पर हासिल कर लिया.

इंग्लैंड की टीम इससे पहले आयरलैंड से भी हार चुकी है. बांग्लादेश की इस जीत के साथ ही ग्रुप बी में स्थिति काफ़ी रोचक हो गई है.

इस ग्रुप में भारत की टीम शीर्ष पर है, जबकि वेस्टइंडीज़ की टीम दूसरे नंबर पर है. इंग्लैंड की टीम तीसरे और दक्षिण अफ़्रीका की टीम चौथे स्थान पर है.

दक्षिण अफ़्रीका और बांग्लादेश के चार-चार अंक हैं, लेकिन रन औसत के आधार पर दक्षिण अफ़्रीका आगे है. लेकिन इस ग्रुप में एक-एक मैच के नतीजे पर स्थिति बदल सकती है.

मैच

चटगाँव में हुए इस मैच में बांग्लादेश ने टॉस जीतकर पहले फ़ील्डिंग चुनी. इंग्लैंड ने तीन विकेट जल्दी ही गँवा दिए थे. 53 रन के स्कोर पर एंड्रयू स्ट्रॉस, मैट प्रायर और इयन बेल पवेलियन लौट चुके थे.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption इमरुल क़ैस मैन ऑफ़ द मैच चुने गए

लेकिन इसके बाद मॉर्गन और ट्रॉट ने न सिर्फ़ पारी संभाली बल्कि इंग्लैंड को सम्मानजनक स्कोर तक पहुँचने में मदद की. ट्रॉट ने 67 और मॉर्गन ने 63 रनों की पारी खेली.

जवाब में बांग्लादेश ने अच्छी और तेज़ शुरुआत की. तमीम इक़बाल और इमरुल क़ैस ने पहले विकेट के लिए 52 रन जोड़े. तमीम इक़बाल तेज़ 38 रन बनाकर आउट हुए.

लेकिन चौथे विकेट के लिए क़ैस और कप्तान साकिब अल हसन के बीच 82 रनों की साझेदारी काफ़ी अहम रही. इन दोनों के आउट होने के बाद लगा जैसे बांग्लादेश की टीम दबाव में आ जाएगी.

इमरुल क़ैस ने 60 और साकिब ने 32 रन बनाए. बांग्लादेश ने आठ विकेट 169 रन पर गँवा दिए. लेकिन महमूदुल्लाह और शफ़ीउल इस्लाम ने संभल कर खेलते हुए अपनी टीम को एक ओवर पहले ही जीत दिला दी.

महमूदुल्लाह 21 और शफ़ीउल इस्लाम 24 रन पर नाबाद रहे.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार