'सहवाग साधारण बल्लेबाज़ हैं'

वीरेंदर सहवाग इमेज कॉपीरइट Reuters

वेस्टइंडीज़ के पूर्व तेज़ गेंदबाज़ माइकल होल्डिंग की मानें तो भारत के विस्फोटक सलामी बल्लेबाज़ वीरेंदर सहवाग असाधारण नहीं बल्कि एक साधारण बल्लेबाज़ ही हैं.

माइकल होल्डिंग के मुताबिक़ उन्होंने अपने समय में सहवाग से कहीं बेहतर बल्लेबाजों को गेंद फेंकी है.

हालांकि इस बात में कोई श़क नहीं कि आज के समय में जब सहवाग अपनी लय में होते हैं तो किसी भी गेंदबाज़ के लिए मुसीबत खड़ी हो जाती है.

पर होल्डिंग का कहना है कि माजिद ख़ान, जावेद मियाँदाद और ज़हीर अब्बास जैसे बल्लेबाज़ों को गेंद फेंकना इससे भी कहीं ज़्यादा कठिन था.

माइकल होल्डिंग के अनुसार सहवाग की बल्लेबाजी तकनीक साधारण है और अगर वे सहवाग को गेंदबाज़ी करते तो ऑफ स्टंप के बाहर एक भी गेंद नहीं फेंकते.

उम्मीद है नजफगढ़ नव़ाब जल्दी ही इस बात का जवाब अपने बल्ले से देंगे !

धोनी की दुविधा

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी अपने साथी खिलाड़ियों को चोटों से बचाने को लेकर इतने फ़िक्रमंद हैं कि वह नॉकआउट चरण तक के लिए पूरी टीम को फ़िट रखना चाहते हैं.

धोनी साहब का मानना है कि सभी खिलाड़ी अंतिम चरण तक फ़िट रहे और फ़ॉर्म में रहें जिससे उस समय होने वाले बड़े मुक़ाबलों के लिए उनके पास सर्वश्रेष्ठ एकादश चुनने का विकल्प रहे.

मज़े कि बात ये है कि धोनी साहब ऑफ स्पिनर हरभजन की गेंदों पर फ़ारवर्ड शार्ट लेग जैसा नजदीकी क्षेत्ररक्षण लगाने से बचना चाहते हैं.

आपने अंदाज़ा लगा ही लिया होगा. क्योंकि माही अपने खिलाड़ियों को लंबी-लंबी डाइव न लगाने के ज़रिये चोटों से बचाना चाहते हैं.

वैसे भारतीय फील्डर कितनी डाइव लगाते हैं, इस बात की चर्चा फिर कभी ही की जाए तो बेहतर.

विराट का वादा

इमेज कॉपीरइट AFP

भारतीय खिलाड़ी विराट कोहली पिछले तीन मैचों में अपेक्षानुरूप बल्लेबाज़ी नहीं कर सके हैं और काफ़ी निराश हैं.

विराट ने अब अपने गुरु रा्जकु्मार शर्मा से वादा किया है कि वे दक्षिण अफ़्रीका और वेस्ट इंडीज़ के ख़िलाफ़ होने वाले अगले मैचों में ज़ोरदार वापसी करेंगे.

हालांकि विराट कोहली ने बांग्लादेश के ख़िलाफ़ मैच में 100 रन बनाए थे लकिन उसके बाद के तीन मैचों में वे सिर्फ़ 8, 34 और 12 रन ही बना पाए हैं.

ख़ैर, विराट को क्रिकेट के शुरुआती गुर सिखाने वाले राजकुमार शर्मा का कहना है कि विराट मानते हैं कि उनसे ग़लतियाँ हुईं हैं.

पर राजकुमार शर्मा ये भी दोहराते हैं कि विराट कोहली वापसी के प्रति आश्वस्त हैं.

भले ही युवराज सिंह फ़ॉर्म में हों, लेकिन विराट को अगले कुछ मैचों में विराट स्कोर खड़ा करना ही होगा, तभी भारतीय टीम को मध्यक्रम में थोड़ी राहत रहेगी.

संबंधित समाचार