जीत से आयरलैंड का सफ़र ख़त्म

  • 18 मार्च 2011
पॉल स्टर्लिंग इमेज कॉपीरइट AFP

ऑल राउंडर पॉल स्टर्लिंग के शानदार शतक की बदौलत आयरलैंड ने अपने आख़िरी ग्रुप मैच में नीदरलैंड्स को छह विकेट से हरा दिया है.

इस जीत के साथ ही इस विश्व कप में आयरलैंड का अभियान ख़त्म हो गया है.

नीदरलैंड्स ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए 50 ओवर में 306 रनों का बड़ा स्कोर खड़ा किया था. लेकिन आयरलैंड ने 47.4 ओवर में ही लक्ष्य हासिल कर लिया.

नीदरलैंड्स की ओर से दुश्काटे ने शानदार शतक लगाया और 106 रन बनाकर आउट हुए तो कप्तान पीटर बोरेन ने 84 रनों की पारी खेली.

लेकिन नीदरलैंड्स की टीम ने आख़िरी ओवर में तेज़ी से रन बटोरने की कोशिश में चार विकेट गँवा दिए. ये चारों खिलाड़ी रन आउट हुए. ये ओवर फेंक रहे थे केविन ओ ब्रायन.

पारी

आयरलैंड ने जब लक्ष्य का पीछा करना शुरू किया तो ऐसा लग गया कि नीदरलैंड्स के 306 रन भी इस विकेट पर कम पड़ेंगे और अंत में हुआ भी ऐसा ही.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption दुश्काटे ने भी शतक लगाया

पहले विकेट के लिए पॉल स्टर्लिंग और कप्तान विलियम पोर्टरफ़ील्ड ने 177 रन जोड़े. पोर्टरफ़ील्ड 68 रन बनाकर आउट हुए. स्टर्लिंग ने 101 रन बनाए.

नील ओ ब्रायन ने भी शानदार पारी खेली और 57 रन बनाकर नाबाद रहे, जबकि केविन ओ ब्रायन ने 15 नाबाद रनों की पारी खेली और शानदार छक्का लगाकर अपनी टीम को जीत दिलाई.

लेकिन नीदरलैंड्स ने भी अपने प्रदर्शन से सबको प्रभावित किया. दुश्काटे ने इस प्रतियोगिता का दूसरा शतक लगाया और अपना लोहा मनवाया. इस विश्व कप में अभी तक सचिन तेंदुलकर और एबी डी वेलियर्स ही दो शतक लगा पाए हैं.

इस विश्व कप में नीदरलैंड्स की टीम कोई मैच नहीं जीत पाई लेकिन आयरलैंड ने ज़रूर इंग्लैंड को हराकर सबको सकते में डाल दिया.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार