कंगारु पिटे, भारत सेमी फ़ाइनल में

  • 24 मार्च 2011
युवराज सिंह इमेज कॉपीरइट Getty Images

ऑस्ट्रेलिया को पाँच विकेट से हराकर भारत ने विश्व कप के सेमी फ़ाइनल में जगह बनाई. अब सेमी फ़ाइनल में भारत का मुक़ाबला पाकिस्तान से होगा.

भारत को जीत के लिए 261 रनों की आवश्यकता थी, जो उसने पाँच विकेट के नुक़सान पर 47.4 ओवर में ही हासिल कर लिया. युवराज सिंह ने बेहतरीन बल्लेबाज़ी की. जबकि सुरेश रैना ने भी विस्फोटक बल्लेबाज़ी की.

रैना ने 28 गेंदों पर 34 रन बनाए. युवराज और रैना ने छठे विकेट के लिए 74 रनों की साझेदारी की. युवराज सिंह 57 रन बनाकर नाबाद रहे. युवराज सिंह को शानदार बल्लेबाज़ी और गेंदबाज़ी के कारण मैन ऑफ़ द मैच चुना गया.

कप्तान महेंद्र सिंह धोनी सिर्फ़ सात रन बनाकर आउट हुए. धोनी के आउट होने के बाद ऐसा लगा कि भारतीय टीम की जीत मुश्किल हो जाएगी. लेकिन युवराज सिंह और सुरेश रैना ने बेहतरीन साझेदारी की.

गौतम गंभीर ग़ैर ज़िम्मेदार तरीक़े से रन आउट हुए. उन्होंने 50 रन बनाए. इससे पहले विराट कोहली ने एक फ़ुल टॉस पर स्ट्रोक लगाने की कोशिश की और कैच दे बैठे. भारतीय पारी की शुरुआत बहुत अच्छी नहीं रही और उसका पहला विकेट 44 रन पर गिरा. लेकिन सहवाग सस्ते में निपट गए.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption सचिन ने भी अर्धशतक लगाया

सहवाग ने 15 रन बनाए. सचिन ने गौतम गंभीर के साथ दूसरे विकेट के लिए 50 रन जोड़े. सचिन अच्छा खेल रहे थे. लेकिन 53 रन के निजी स्कोर पर सचिन ने एक ग़लती की और शॉन टेट की गेंद पर वे आउट हो गए.

सचिन का विकेट शॉन टेट को मिला. भारत की टीम सेमी फ़ाइनल में जगह बनाने के लिए 261 रनों के लक्ष्य का पीछा कर रही है. सचिन ने 61 गेंदों पर अपना अर्धशतक पूरा किया और सात चौके लगाए.

वनडे में ये उनका 94वाँ अर्धशतक था. उन्होंने अपनी पारी के दौरान वनडे क्रिकेट में 18 हज़ार रन पूरे किए. इससे पहले वीरेंदर सहवाग 15 रन बनाकर आउट हो गए. पहले विकेट के लिए उन्होंने सचिन तेंदुलकर के साथ 44 रन जोड़े. सहवाग ने 22 गेंदों का सामना किया और अपनी पारी में दो चौके लगाए.

ऑस्ट्रेलियाई पारी

मोटेरा में हुए इस मैच में पहले बल्लेबाज़ी करते हुए ऑस्ट्रेलिया ने कप्तान रिकी पोंटिंग के शानदार शतक की बदौलत ने 50 ओवर में छह विकेट के नुक़सान पर 260 रन बनाए.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption रिकी पोंटिंग ने शानदार शतक लगाया

रिकी पोंटिंग ने सर्वाधिक 104 रन बनाए. ब्रैड हैडिन ने 53 रन बनाए, तो डेविड हसी 38 रन बनाकर नाबाद रहे.

पोंटिंग ने बेहतरीन बल्लेबाज़ी की और ऑस्ट्रेलिया को इस स्कोर तक पहुँचाने में अहम भूमिका निभाई. वनडे मैचों में ये उनका 30वाँ और विश्व कप में पाँचवाँ शतक है.

ऑस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज़ों शेन वॉटसन और ब्रैड हैडिन ने संभलकर शुरुआत की लेकिन कमज़ोर गेंदों की पिटाई भी की.

लेकिन इस मैच में शेन वॉटसन ज़्यादा नहीं जम पाए और 24 रन बनाकर आर अश्विन की गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गए. ब्रैड हैडिन और रिकी पोंटिंग ने दूसरे विकेट के लिए 70 रन जोड़े.

ब्रैड हैडिन 53 रन बनाकर युवराज सिंह की गेंद पर आउट हुए. इसके बाद ऑस्ट्रेलिया के दो विकेट जल्दी-जल्दी गिरे. माइकल क्लार्क आठ रन बनाकर और माइकल हसी तीन रन बनाकर आउट हो गए.

कैमरुन व्हाइट भी 12 रन बनाकर आउट हुए. भारत की ओर से ज़हीर ख़ान, आर अश्विन और युवराज सिंह ने दो-दो विकेट लिए.

संबंधित समाचार