मोहाली में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी

मोहाली इमेज कॉपीरइट Getty Images

मोहाली में भारत और पाकिस्तान के बीच होने वाले विश्व कप सेमी फ़ाइनल को लेकर सुरक्षा व्यवस्था काफ़ी कड़ी कर दी गई है. दोनों ही टीमें मोहाली पहुँच चुकी हैं.

बुधवार को होने वाले इस मैच के लिए क़रीब तीन हज़ार पुलिसकर्मियों को तैनात किया जाएगा. माना जा रहा है कि दो हज़ार सुरक्षाकर्मी सिर्फ़ स्टेडियम के आसपास निगरानी रखेंगे.

दोनों ही टीमें चंडीगढ़ के ताज होटल में रुकी हुई हैं और क़रीब एक हज़ार पुलिसकर्मी इस होटल के आसपास पहले ही तैनात कर दिए गए हैं.

भारत ने ऑस्ट्रेलिया को हराकर और पाकिस्तान ने वेस्टइंडीज़ को मात देकर विश्व कप के सेमी फ़ाइनल में जगह बनाई है.

उत्साह

आख़िरी बार विश्व कप में दोनों टीमों का आमना-सामना वर्ष 2003 के विश्व कप में हुआ था और उस मैच में भारत ने जीत हासिल की थी. वैसे विश्व कप में कभी भी पाकिस्तान की टीम भारत को नहीं हरा पाई है.

इस मैच को लेकर भारत और पाकिस्तान में काफ़ी उत्साह है. भारत के प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री यूसुफ़ रजा गीलानी और राष्ट्रपति आसिफ़ अली ज़रदारी को मैच देखने के लिए भारत आने का न्यौता भी दिया है.

पाकिस्तानी खिलाड़ी मोहम्मद हफ़ीज़ ने कहा है कि सुरक्षा को लेकर खिलाड़ियों के मन में कोई चिंता नहीं हैं. मोहाली में एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान हफ़ीज़ ने कहा, "हमें कोई डर नहीं है. सुरक्षा उपलब्ध कराना आईसीसी और बीसीसीआई का काम है. हमारा काम तो सिर्फ़ क्रिकेट खेलना है."

इस मैच को देखने के लिए लोगों में बहुत उत्साह है. सुबह से ही स्टेडियम के बाहर लोग जुटने लग रहे हैं.

हालाँकि पंजाब क्रिकेट एसोसिएशन (पीसीए) ने पहले ही स्पष्ट कर दिया है कि 30 हज़ार दर्शकों की क्षमता वाले स्टेडियम के 14 हज़ार टिकट पहले ही बिक चुके हैं और बाक़ी के टिकट आईसीसी के हाथ में हैं.

संबंधित समाचार