तीन खिलाड़ियों पर लगा जुर्माना

काइल मिल्स, डू प्लेसी और वेटोरी इमेज कॉपीरइट AP

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने शुक्रवार को ढाका में न्यूज़ीलैंड और दक्षिण अफ़्रीका के बीच हुए क्वार्टर फ़ाइनल मैच के दौरान कुछ खिलाड़ियों में हुई झड़प को काफ़ी गंभीरता से लिया है.

आईसीसी ने आचार संहिता के उल्लंघन के मामले में न्यूज़ीलैंड के खिलाड़ी काइल मिल्स, कप्तान डेनियल वेटोरी और दक्षिण अफ़्रीका के खिलाड़ी डू प्लेसी पर जुर्माना लगाया है.

काइल मिल्स पर आईसीसी की आचार संहिता के अनुच्छेद 2.2.4 के उल्लंघन के लिए उनकी मैच फ़ीस का 60 फ़ीसदी जुर्माना लगाया गया है. ये लेवल-2 का अपराध है और अनुचित और जान-बूझकर खिलाड़ियों से टकराने से संबंधित है.

मिल्स पर आचार संहिता के अनुच्छेद 2.2.11 के लिए भी उनकी फ़ीस का 60 फ़ीसदी जुर्माना लगाया गया है. ये भी लेवल-2 का अपराध है और खेल भावना के ख़िलाफ़ और खेल को बदनाम करने के मामले से संबंधित है.

कप्तान वेटोरी पर 50 और 40 फ़ीसदी का जुर्माना लगाया गया है.

दोषी

दक्षिण अफ़्रीका के खिलाड़ी डू प्लेसी पर 50 फ़ीसदी का जुर्माना लगाया गया है और उन्हें आचार संहिता के अनुच्छेद 2.2.4 के उल्लंघन का दोषी ठहराया गया है.

ये घटना दक्षिण अफ़्रीका की पारी के दौरान हुआ, जब 28वाँ ओवर समाप्त हुआ था. दक्षिण अफ़्रीका का एक विकेट गिरने के बाद डू प्लेसी और न्यूज़ीलैंड के कुछ खिलाड़ियों के बीच टकराव हुआ था.

उस समय मिल्स भी मैदान पर मौजूद थे. हालाँकि वे टीम का हिस्सा नहीं थे, लेकिन वे पानी लेकर उस समय मैदान में आए थे, क्योंकि एक विकेट उस समय गिरा था.

मैदान पर मौजूद अंपायरों अलीम डार और रॉड टकर के अलावा तीसरे अंपायर कुमार धर्मसेना और चौथे अंपायर नाइजल लॉन्ग ने इन खिलाड़ियों पर ये गंभीर आरोप लगाए.

आईसीसी के मैच रेफ़री रोशन महानामा ने इन आरोपों पर विचार किया और फिर इन खिलाड़ियों पर जुर्माना लगाया.

अपने फ़ैसले के बारे में महानामा ने कहा, "दोनों टीमों के लिए एक महत्वपूर्ण मैच का ये बहुत अहम समय था. लेकिन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में जान-बूझकर किसी खिलाड़ी से टकराने के लिए कोई बहाना नहीं दिया जा सकता. वेटोरी और मिल्स ने खेल भावना के ख़िलाफ़ अनुचित व्यवहार जारी रखा इसलिए उनके ख़िलाफ़ दूसरे आरोप भी लगाए गए."

ध्यान

रोशन महानामा ने कहा कि खिलाड़ियों पर जुर्माने का फ़ैसला करते समय उन्होंने खिलाड़ियों के पुराने रिकॉर्ड को भी ध्यान में रखा है और इन खिलाड़ियों में से किसी पर आचार संहिता के उल्लंघन का मामला पहले नहीं सामने आया है.

इमेज कॉपीरइट Reuters (audio)
Image caption न्यूज़ीलैंड की टीम ने दक्षिण अफ़्रीका को हरा दिया था

न्यूज़ीलैंड के काइल मिल्स ने आरोपों से इनकार किया. इसलिए रोशन महानामा और चारों अंपायरों की मौजूदगी में सुनवाई हुई. इस सुनवाई में मिल्स और न्यूज़ीलैंड के टीम मैनेजर भी मौजूद थे.

काइल मिल्स और मैच अधिकारियों के बयान और वीडियो सबूत देखने के बाद मैच रेफ़री रोशन महानामा ने उन्हें दोषी पाया. लेकिन मिल्स इस फ़ैसले के ख़िलाफ़ अपील कर सकते हैं.

लेकिन उनके पास फ़ैसले की प्रति मिलने के बाद अपील करने के लिए सिर्फ़ 24 घंटे ही रहेंगे. बाक़ी के दो खिलाड़ियों ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया था.

इस बीच न्यूज़ीलैंड के खिलाड़ी काइल मिल्स की जगह टीम में एंडी मैके को शामिल किया गया है. मिल्स घायल हैं और आईसीसी ने मैके को टीम में शामिल किए जाने को मंज़ूरी दे दी है.

संबंधित समाचार