मैच के लिए विमानों में होड़

मोहाली में क्रिकेट प्रेमी इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption मोहाली में क्रिकेट प्रेमी स्टेडियम में जगह के लिए तरस रहे हैं तो उधर हवाई अड्डे पर विमानों को पार्किंग की दिक्कत हो रही है.

मोहाली में बुधवार को होने वाले भारत-पाकिस्तान क्रिकेट मुक़ाबले के लिए क्रिकेट प्रेमियों के साथ-साथ हवाई जहाज़ों में भी जगह के लिए होड़ मची है.

माना जा रहा है की बुधवार यानी 30 मार्च के दिन चंडीगढ़ हवाई अड्डा दिल्ली और मुंबई के हवाई यातायात को टक्कर दे सकता है. पाकिस्तानी प्रधानमंत्री यूसुफ़ रज़ा गीलानी अपने विमान में अपने दलबल के साथ पहुंचेंगे.

पाकिस्तान एयरफ़ोर्स का एक विशेष विमान मंगलवार शाम को ही सुरक्षा उपकरणों के साथ चंडीगढ़ में लैंड कर चुका है.

इधर, भारतीय प्रधानमंत्री अपने विशेष विमान से चंडीगढ़ हवाई अड्डे पर लगभग दो बजे के आसपास लैंड करेंगे. साथ ही भारत की कमर्शियल विमान कंपनियों ने इस अहम दिन के लिए कम से कम छह विशेष उड़ानों का बंदोबस्त किया है.

एक अनुमान के मुताबिक़ चंडीगढ़ हवाई अड्डे पर बुधवार के दिन करीब 50 चार्टर्ड विमान देश-दुनिया से क्रिकेट प्रमियों को लेकर लैंड करेंगे.

कई हस्तियों का जमावड़ा

उम्मीद की जा रही है कि ये निजी विमान भारत के नामचीन उद्योगपतियों और फ़िल्मी सितारों को लेकर पहुंचेंगे.

इन ख़ास लोगों में मुकेश और अनिल अंबानी, कृषि मंत्री शरद पवार, प्रफुल्ल पटेल, ज्योतिरादित्य सिंधिया, अभिषेक और ऐश्वर्या राय बच्चन, अनिल अग्रवाल, सुनील शेट्टी और गौतम सिंघानिया जैसे दिग्गज शामिल हो सकते हैं.

इतनी भीड़-भाड़ के चलते चंडीगढ़ हवाई अड्डे के सामने एक बड़ी चुनौती ये है कि इन तमाम विमानों को पार्क कहां कराया जाए.

चंडीगढ़ हवाई अड्डे का देख-रेख और संचालन इंडियन एयरफ़ोर्स करती है और उसने साफ़ कर दिया है कि प्रधानमंत्रियों के अलावा अत्यधिक सुरक्षा प्राप्त लोगों के सिवाय दूसरी शख्सियतों के विमान यहां पार्क नहीं रह सकते.

इस वजह से ज़्यादा से ज़्यादा विमानों को मोहाली में सवारियों को उतार कर देहरादून, दिल्ली या अमृतसर जाकर पार्किंग करनी होगी.

हालांकि चंडीगढ़ हवाई अड्डे से रात्रि उड़ानों पर पाबन्दी है लेकिन इस अहम दिन को देखते हुए आज रात चंडीगढ़ से विमानों को उड़ान भरने की हरी झंडी दे दी गई है.

संबंधित समाचार