पाकिस्तान को हराकर भारत फ़ाइनल में

भारतीय खिलाड़ी ख़ुशियाँ मनाते हुए इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption सचिन तेंदुलकर पाकिस्तान पर विश्व कप में भारत को मिली पाँचों जीतों का हिस्सा रहे हैं

भारत ने क्रिकेट विश्व कप के सेमीफ़ाइनल में पाकिस्तान को पस्त करते हुए 29 रनों से जीत हासिल की है.

करोड़ों क्रिकेट प्रेमियों की निगाहें इस मैच पर लगी हुई थीं और भारत के 260 रनों का पीछा करते हुए पाकिस्तान की पूरी टीम 231 रन ही बना सकी. मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर मैन ऑफ़ द मैच घोषित हुए हैं.

अब फ़ाइनल में दो अप्रैल को भारत का मुक़ाबला मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में श्रीलंका से होगा. भारत तीसरी बार विश्व कप के फ़ाइनल में पहुँचा है जबकि श्रीलंका को पिछले विश्व कप के फ़ाइनल में ऑस्ट्रेलिया ने हराया था.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption युवराज सिंह ने भारत को दो अहम सफलताएँ दिलाईं

पाकिस्तान का सबसे पहला विकेट कामरान अकमल के रूप में गिरा था जबकि सिर्फ़ 19 रनों के निजी स्कोर पर ज़हीर की गेंद पर युवराज ने उनका कैच लपका. इसके बाद दूसरे सलामी बल्लेबाज़ मोहम्मद हफ़ीज़ जब 43 रन बनाकर आउट हुए तो टीम का स्कोर 70 रन हो चुका था.

उनका विकेट मुनाफ़ पटेल ने लिया और कैच विकेट के पीछे महेंद्र सिंह धोनी ने लपका. असद शफ़ीक़ और यूनुस ख़ान ने पारी को सँभालने की कोशिश की मगर फिर युवराज ने शफ़ीक को 30 रनों पर क्लीन बोल्ड करके भारत के लिए उम्मीदें जगा दीं.

चौथा विकेट यूनुस ख़ान के रूप में गिरा जबकि उन्हें युवराज की गेंद पर सुरेश रैना ने कैच आउट किया. यूनुस ने 13 रन बनाए थे और टीम का स्कोर था 106 रन.

उसके बाद पाकिस्तानी खिलाड़ियों ने रुककर खेलने की कोशिश की और मिसबाह उल हक़ ने अंत तक रुककर अर्द्धशतक भी पूरा किया मगर उनके 56 रनों की पारी भी पाकिस्तान को जीत तक नहीं पहुँचा सकी.

भारत की ओर से ज़हीर ख़ान, आशीष नेहरा, मुनाफ़ पटेल, हरभजन सिंह और युवराज सिंह ने गेंदबाज़ी की और सभी को दो-दो विकेट हासिल हुए.

भारतीय पारी

इससे पहले भारत ने औसत बल्लेबाज़ी का प्रदर्शन करते हुए 50 ओवरों में 260 रन बनाए.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption युवराज सिंह अभी आए ही थे कि पहली ही गेंद पर बोल्ड हो गए

दोनों देशों के प्रधानमंत्रियों की मौजूदगी में भारत के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने टॉस जीतने के बाद पहले बल्लेबाज़ी का फ़ैसला किया और शुरुआत में वह फ़ैसला सही होता भी लगा मगर एक बार जब वहाब रियाज़ ने विकेट लेने शुरू किए तो महत्त्वपूर्ण मौक़ों पर उन्होंने भारत को बड़े झटके दिए.

भारत ने तेज़ शुरुआत की मगर पहले वीरेंदर सहवाग एलबीडब्ल्यू आउट हुए और उसके बाद भारत ने 25 रनों के भीतर तीन विकेट गँवा दिए. वहाँ से पाकिस्तान ने मैच में वापसी कर ली.

सहवाग ने 25 गेंदों पर 38 रन बनाए और उसमें नौ चौके शामिल थे.

जब वह 48 रनों के स्कोर पर आउट हुए तो सचिन तेंदुलकर के साथ मिलकर गौतम गंभीर ने पारी को आगे बढ़ाया. इस बीच तेंदुलकर को कई जीवनदान भी मिले.

झटके

गंभीर ने तेंदुलकर के साथ मिलकर 68 रन बनाए. मगर गंभीर मोहम्मद हफ़ीज़ की एक गेंद को मारने के चक्कर में स्टंप आउट हो गए. उस समय तक गंभीर ने 32 गेंदों में 27 रन बनाए थे.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption गिलानी और मनमोहन सिंह ये मैच देखने पहुँचे हैं

सचिन तेंदुलकर का कैच एक बार मिसबाह उल हक़ ने छोड़ा तो दूसरी बार यूनुस ख़ान से उनका कैच छूट गया. इसके अलावा कामरान और उमर अकमल से भी तेंदुलकर का कैच एक-एक बार छूटा.

उधर 116 के स्कोर पर गंभीर के आउट होने के बाद विराट कोहली क्रीज़ पर आए. मगर वह सिर्फ़ नौ रन बनाकर रियाज़ की गेंद पर उमर अकमल के हाथों लपके गए.

वहाब रियाज़ के सामने अगली गेंद पर थे अब तक टूर्नामेंट में भारत के स्टार रहे युवराज सिंह और इससे पहले की उनका बल्ला चलता गेंद ने उनकी गिल्लियाँ बिखेर दीं. रियाज़ ने अगला विकेट लिया भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का. धोनी 25 रन बनाकर एलबीडब्ल्यू आउट हुए.

इस बीच तेंदुलकर बार-बार बचते हुए 85 रनों के स्कोर पर सईद अजमल की गेंद पर शाहिद अफ़रीदी के हाथों कैच आउट हुए.

सुरेश रैना ने बाद में तेज़ी से रन बनाने की कोशिश की मगर वह 39 गेंदों में 36 रन ही बना सके. भारत की इस पारी में एक भी छक्का नहीं लगा.

प्रधानमंत्रियों की मौजूदगी

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption पत्नी के साथ बॉलीवुड स्टार आमिर ख़ान भी मैच देखने पहुँचे हैं

भारतीय प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह ने पाकिस्तानी प्रधानमंत्री यूसुफ़ रज़ा गिलानी को विशेष तौर पर ये मैच देखने के लिए मोहाली आमंत्रित किया था.

भारत ने क्वॉर्टर फ़ाइनल मैच में खेली टीम में एक बदलाव किया है जबकि स्पिनर आर अश्विन की जगह तेज़ गेंदबाज़ आशीष नेहरा की टीम में वापसी हुई. वहीं पाकिस्तान ने क्वॉर्टर फ़ाइनल की टीम में कोई बदलाव नहीं किया.

इन बड़े नेताओं की मौजूदगी की वजह से मोहाली में सुरक्षा व्यवस्था काफ़ी कड़ी रही और लोग घंटों लाइन लगाकर स्टेडियम में पहुँचे.

भारत ने क्वॉर्टर फ़ाइनल में ऑस्ट्रेलिया को हराकर मोहाली में खेलना तय किया था जबकि पाकिस्तान ने सेमीफ़ाइनल में जगह बनाने के लिए वेस्टइंडीज़ को धूल चटाई थी.

भारत की कई जानी-मानी हस्तियाँ मैच देखने मोहाली पहुँचीं जिनमें बॉलीवुड सितारों से लेकर केंद्र में सत्तारूढ़ संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन की प्रमुख सोनिया गाँधी और कांग्रेस नेता राहुल गाँधी भी शामिल रहे.

लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार और बॉलीवुड स्टार आमिर ख़ान भी दर्शकों में मौजूद थे.

पाकिस्तान ने इस टूर्नामेंट में अब तक भारत में एक भी मैच नहीं खेला था क्योंकि ग्रुप स्तर के उसके सारे मुक़ाबले श्रीलंका में हुए और क्वॉर्टर फ़ाइनल मुक़ाबला ढाका में था.

संबंधित समाचार