अफ़रीदी पर फूलों की बारिश

इमेज कॉपीरइट AFP

विश्व कप क्रिकेट के सेमीफ़ाइनल में भारत के हाथों हार के बाद पाकिस्तान की क्रिकेट टीम स्वदेश पहुँची तो उस का भव्य स्वागत किया गया.

पाकिस्तानी टीम के कप्तान शाहिद अफ़रीदी, सलामी बल्लेबाज़ असद शफ़ीक़ और यूनुस ख़ान शुक्रवार की सुबह कराची पहुँचे जबकि अब्दुल रज़ाक़, वहाब रियाज़ और टीम के अन्य खिलाड़ी लाहौर के हवाई अड्डे पर उतरे.

कराची के हवाई अड्डे पर सैंकड़ों क्रिकेट प्रेमियों ने शाहिद, असद शफ़ीक़ और यूनुस ख़ान पर फ़ूल की पत्तियाँ फेकीं और बूम बूम अफ़रीदी के नारे लगाए.

तीनों खिलाड़ियों को हवाई अड्डे से काफ़िलों की सूरत में उन के घरों तक पहुँचाया गया और पूरे रास्ते में क्रिकेट प्रेमी नारे लगाते गए कि ‘हमें अपने खिलाड़ियों पर नाज़ है.’

शाहिद अफ़रीदी ने पत्रकारों ने बातचीत करते हुए कहा कि सेमीफ़ाइनल में हुई हार से सभी खिलाड़ियों को निराशा ज़रुर हुई है लेकिन खिलाड़ियों ने प्रतियोगिता में अच्छे खेल का प्रदर्शन किया.

उन्होंने कहा कि क्रिकेट टीम के वरिष्ठ खिलाड़ियों को थोड़ा आराम करने का मौक़ा दिया जाना चाहिए और इसकी जगह नए खिलाड़ियों को टीम में शामिल किया जाना चाहिए.

दूसरी ओर लाहौर के हवाई अड्डे पर भी बड़ी संख्या में क्रिकेट प्रेमी जुटे जहाँ अब्दुल रज़्ज़ाक़, वहाब रियाज़ और दूसरे खिलाड़ी पहुँचे. खिलाड़ियों के स्वागत करने वालों में पंजाब के मुख्यमंत्री शहबाज़ शरीफ़ और वरिष्ठ अधिकारी भी शामिल थे.

इमेज कॉपीरइट AP

जब खिलाड़ी हवाई अड्डे से बाहर निकले तो लोगों ने उन के समर्थन में नारे लगाए और नाचना शुरु कर दिया. मुख्यमंत्री शहबाज़ शरीफ़ ने खिलाड़ियों को मालाएँ पहनाई.

शहबाज़ शरीफ़ ने पत्रकारों ने बातचीत करते हुए कहा, “टीम ने बहुत कड़ी मेहनत की और सेमीफ़ाइनल तक पहुँची और सभी खिलाड़ियों ने बेहतरीन खेल का प्रदर्शन किया. खिलाड़ियों ने हमारा सर फ़क्र से ऊँचा कर दिया है और मुझे उम्मीद है कि वह भविष्य में भी ऐसा ही खेलेंगे.”

उन्होंने कहा कि सेमीफ़ाइनल में पाकिस्तानी टीम की हार से लोगों को निराश नहीं होना चाहिए क्योंकि हार-जीत तो खेल का हिस्सा है और टीम ने पूरी प्रतियोगिता में अच्छा खेल दिखाया है.

प्रधानमंत्री यूसुफ़ रज़ा गिलानी ने भी संसद में क्रिकेट खिलाड़ियों की प्रशंसा की और कहा कि सेमीफ़ाइनल में किसी की हार नहीं हुई है बल्कि क्रिकेट खेल की जीत हुई है.

उन्होंने बताया कि खिलाड़ियों ने भारत और पाकिस्तान को करीब कर दिया है जिस का इस क्षेत्र में सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा.

संबंधित समाचार