ऑस्ट्रेलिया ने बांग्लादेश को रौंदा

माइकल क्लार्क इमेज कॉपीरइट AP

ढाका में बांग्लादेश को 60 रनों से हराकर ऑस्ट्रेलिया ने तीन मैचों वाली एक दिवसीय सिरीज़ में 1-0 की बढ़त ले ली है.

ढाका में खेले गए इस मैच में ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए सात विकेट के नुक़सान पर 270 रनों का स्कोर खड़ा किया.

कप्तान माइकल क्लार्क ने इस स्कोर में 101 रनों का योगदान देते हुए एक महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाई.

बांग्लादेश ने टॉस जीत कर ऑस्ट्रेलिया से पहले बल्लेबाज़ी करने के लिए कहा.

हालांकि सलामी बल्लेबाज़ ब्रैड हैडिन सिर्फ़ 10 के निजी स्कोर पर आउट होकर पवेलियन लौट गए और उनके स्थान पर पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग क्रीज़ पर आए.

पोंटिंग और शेन वॉटसन ने टीम के लिए महत्त्वपूर्ण 65 रन जोड़े लेकिन पोंटिंग 34 रनों के स्कोर पर रन आउट हो गए.

दूसरा विकेट गिरने के बाद ख़ुद माइकल क्लार्क क्रीज़ पर आए और उन्होंने तेज़ शतक लगाते हुए अपनी टीम के स्कोर को 250 के पार पहुंचाया.

पारी समाप्त होने से पहले ऑस्ट्रेलिया की ओर से मिचेल जॉनसन ने आखिरी गेंद पर छक्का जड़ा और बांग्लादेश के सामने जीत के लिए 271 रनों का लक्ष्य था.

बांग्लादेश की पारी

मेज़बान देश की शुरुआत बेहद ख़राब रही क्योंकि ब्रेट ली ने पहले ही ओवर में इमरुल क़ैस को आउट कर दिया.

ब्रेट ली के बाद मिचेल जॉनसन ने भी शहरयार नफ़ीस को बिना खा़ता खोले ही पवेलियन का रास्ता दिखाया.

इस बीच बांग्लादेश का स्कोर दो विकेट के नुक़सान पर मात्र नौ रन ही था.

हालांकि तमीम और शाकिब अल हसन के बीच 67 रनों की साझेदारी से बांग्लादेश की स्थिति कुछ बेहतर हुई लेकिन तमीम के आउट होते ही स्टेडियम में मौजूद दर्शकों का उत्साह ख़त्म सा हो गया.

तमीम ने आउट होने से पहले 89 गेंदों में 62 रनों की पारी खेली लेकिन उनके बाद के बल्लेबाज़ सस्ते में आउट हो गए.

शाकिब भी अपना अर्धशतक पूरा करने के बाद स्मिथ की गेंद पर वॉटसन को कैच थमा बैठे.

आख़िरकार बांग्लादेश की टीम पूरे 50 ओवर खेलने के बाद भी पांच विकेट के नुक़सान पर सिर्फ़ 210 रन ही बना सकी.

अपने बेहतरीन शतक के लिए ऑस्ट्रेलिया के कप्तान माइकल क्लार्क को मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार दिया गया.

संबंधित समाचार