रोचक मैच में पुणे की विजय

  • 14 अप्रैल 2011
पुणे वॉरियर्स इमेज कॉपीरइट AP

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में शामिल दो नई टीमों का मुक़ाबला आख़िरकार युवराज सिंह के नेतृत्व वाली पुणे वॉरियर्स ने जीत ली है.

नवी मुंबई के डीवाई पाटिल स्टेडियम में हुए इस मैच में पुणे वॉरियर्स ने कोच्चि टस्कर्स केरला को चार विकेट से हराकर लगातार दूसरी जीत दर्ज की.

जीत के लिए पुणे वॉरियर्स के सामने 149 रनों का लक्ष्य था, जो उसने 18.5 ओवरों में छह विकेट के नुक़सान पर हासिल कर लिया. पुणे और कोच्चि के बीच मुक़ाबला काफ़ी रोचक और संघर्षपूर्ण रहा. लेकिन पुण वॉरियर्स ने संयम से खेलते हुए जीत हासिल कर ली.

टॉस जीतकर कोच्चि टस्कर्स केरला के कप्तान महेला जयवर्धने ने पहले बल्लेबाज़ी करने का फ़ैसला किया. लेकिन उसकी शुरुआत काफ़ी ख़राब रही.

ब्रैंडन मैकुलम और वीवीएस लक्ष्मण अपना खाता भी नहीं खोल पाए, तो कप्तान जयवर्धने सिर्फ़ दो रन ही बना पाए. पार्थिव पटेल तेज़ रन बनाने की कोशिश में 21 रन बनाकर आउट हो गए.

लेकिन अपनी टीम के लिए सबसे अच्छी साझेदारी की रवींद्र जडेजा और ब्रैड हॉज ने. दोनों ने पाँचवें विकेट के लिए महत्वपूर्ण 88 रन जोड़े.

प्रदर्शन

हॉज ने 39 और जडेजा ने सर्वाधिक 47 रन बनाए. बाद में गोमेज़ ने तेज़ 26 रन बनाकर अपनी टीम का स्कोर आठ विकेट पर 148 तक पहुँचाने में मदद की. पुणे वॉरियर्स की ओर से वेन पॉर्नेल ने तीन विकेट लिए.

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption रवींद्र जडेजा ने अच्छी बल्लेबाज़ी की

जीत के लिए 149 रनों के लक्ष्य का पीछा कर रही पुणे वॉरियर्स की टीम ने अच्छी शुरुआत की. लेकिन एक बार विकेट गिरने शुरू हुए तो चार विकेट सिर्फ़ 73 रनों पर गिर गए.

ग्रैम स्मिथ ने 24 और जेसी राइडर ने 17 रन बनाए. लेकिन कप्तान युवराज सिंह आठ रन ही बना पाए. रॉबिन उथप्पा और मोहनीश मिश्रा ने पुणे की पारी संभाली और स्कोर को 115 तक ले गए.

उथप्पा ने 13 गेंदों पर 31 रनों की पारी खेली. वेन पॉर्नेल के रन आउट होने के बाद पुणे की टीम पर थोड़ा दबाव आया. लेकिन मोहनीश ने राहुल शर्मा के साथ मिलकर अपनी टीम को सात गेंद रहते ही जीत दिला दी.

मोहनीश मिश्रा 37 रनों पर नाबाद रहे. संयम से खेली गई उनकी पारी के कारण उन्हें मैन ऑफ़ द मैच चुना गया. राहुल शर्मा 10 रन बनाकर नाबाद रहे.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार