कोच्चि ने फिर दिखाया दम

इमेज कॉपीरइट AFP

कोलकाता में हुए आईपीएल मैच में कोच्चि की टीम ने कोलकाता को दिलचस्प मैच में छह रनों से हरा दिया है. ये कोच्चि की लगातार तीसरी जीत है जबकि कोलकाता ने लगातार तीन मैच जीतने के बाद अपना पहला मैच हारा है.

कोच्चि ने जीत के लिए 133 रनों का लक्ष्य रखा था लेकिन कोलकाता की टीम इस लक्ष्य को हासिल करने से चूक गई और 20 ओवरों में नौ विकेट के नुकसान पर 129 रन ही बना पाई.

कोच्चि के बल्लेबाज़ बहुत कमाल तो नहीं दिखा पाए लेकिन उनके गेंदबाज़ों ने अच्छा प्रदर्शन किया. आरपी सिंह और रविंद्र जडेजा दोनों ने दो-दो विकेट लिए.कोच्चि टस्कर्स केरेला को कप्तान महेला जयवर्धने और ब्रेंडन मैकल्लम ने अच्छी शुरुआती दिलाई.

दोनों मिलकर स्कोर को 49 रन तक ले गए जब सातवें ओवर में शाकिब अल हसन की गेंद पर ब्रेंडन आउट हो गए. उन्होंने 23 रन बनाए. अगले ही ओवर में यूसुफ़ पठान ने जयवर्धने को 25 के स्कोर पर पवेलियन वापस भेज दिया. इन दोनों के जाने के बाद पार्थिव पटेल और ब्रैड हॉज के विकेट भी जल्दी-जल्दी गिर गए.

लेकिन रविंद्र जडेजा ने कुछ हद तक पारी को संभाला और कुल स्कोर को 100 के पार पहुँचाया. 16वें ओवर में जडेजा ब्रेट ली की गेंद का शिकार हो गए. उन्होंने 18 गेंदों में एक चौके और तीन छक्कों की मदद से 29 रन बनाए.

हालांकि बाकी के बल्लेबाज़ स्कोर में ज़्यादा योगदान नहीं दे पाए. शाकिब ने दो पुछल्ले बल्लेबाज़ों को सस्ते में निपटा दिया. कोच्चि की टीम 20 ओवरों में सात विकेट के नुकसान पर 131 रन का स्कोर खड़ा कर पाई.

कोलकाता की ओर से शाकिब अल हसन और पठान ने तीन-तीन विकटे लीं.

कोलकाता की पारी

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption मनोज तिवारी ने अच्छी पारी खेली

बदले में मनविंदर बिसला और कालिस कोलकाता नाइट राइडर्स को अच्छी शुरुआत नहीं दिला सके. चौथे ही ओवर में कालिस मात्र छह रन बनाकर विनय कुमार की गेंद पर आउट हो गए.

अगले ही ओवर में कप्तान गौतम गंभीर भी कालिस के पीछे-पीछे पवेलियन लौट आए. आरपी सिंह ने उन्हें केवल तीन रन पर ही आउट कर दिया. बिसला भी 16 रन बना पाए.

हालांकि फिर मनोज तिवारी मैदान पर आए और उन्होंने अपने दम पर पारी को संभालने का ज़िम्मा उठाया. उन्होंने कोलकाता के लिए अच्छी पारी खेली लेकिन दूसरे छोर पर टिककर उनका साथ देने वाला नहीं था.

इयोन मॉर्गन रन आउट हो गए तो शाकिब अल हसन दो रन ही बना पाए. यूसुफ़ पठान से आतिशी पारी की उम्मीद थी लेकिन उन्होंने निराश किया.

17वें ओवर में अपनी टीम को सात विकेट पर 101 रनों तक ले जाने के बाद तिवारी 46 रनों पर रविंद्र जडेजा की गेंद पर आउट हो गए. उस समय तक लग रहा था तिवारी शायद अपनी टीम को जीत दिला सकते हैं.

मनोज तिवारी के जाने के बाद कोलकाता के बल्लेबाज़ काम को अंजाम तक नहीं पहुँचा सके. आख़िरी ओवर में कोलकाता को जीत के लिए 14 रन चाहिए थे. 19.5 ओवर में भाटिया रन आउट हो गए. अंतत कोच्चि ने मैच छह रनों से जीत लिया.

संबंधित समाचार