श्रीलंकाई क्रिकेटरों को और समय

महेला जयवर्द्धने इमेज कॉपीरइट AP
Image caption महेला जयवर्द्धने और संगकारा अपनी-अपनी टीमों के कप्तान भी हैं

भारतीय क्रिकेट नियंत्रण बोर्ड के हस्तक्षेप के बाद श्रीलंकाई क्रिकेटरों को अब इंडियन प्रीमियर लीग में कुछ और समय तक खेलने का मौक़ा मिल गया है.

श्रीलंकाई खेल मंत्रालय और क्रिकेट बोर्ड ने इससे पहले खिलाड़ियों को इंग्लैंड के दौरे की तैयारी के लिए पाँच मई तक श्रीलंका लौटकर अभ्यास शिविर में शामिल होने के लिए कहा था मगर अब उन्हें राहत दी जा रही है.

श्रीलंका के खेल मंत्री महिंदानंद अलुथगामगे ने इस बारे में बताया, "भारतीय क्रिकेट बोर्ड के अनुरोध के बाद हम खिलाड़ियों को आईपीएल के लिए और समय दे रहे हैं."

अब खिलाड़ियों को 19 मई से इंग्लैंड लॉयन्स के विरुद्ध होने वाले अभ्यास मैच के लिए इंग्लैंड पहुँचना होगा.

इसका मतलब है कि वे 14 मई से मिडलसेक्स के विरुद्ध होने वाले अभ्यास मैच से दूर रह सकते हैं जबकि टीम को पहला टेस्ट मैच 26 मई से खेलना है.

आईपीएल 28 मई तक चलेगा यानी श्रीलंकाई खिलाड़ियों को लगभग 10 दिन पहले टूर्नामेंट से हटना होगा.

बीसीसीआई की माँग

इससे पहले बीसीसीआई ने श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड से अपने क्रिकेटरों को पाँच मई के बाद भी इंडियन प्रीमियर लीग यानी आईपीएल में खेलने देने की अनुमति देने की माँग की थी.

बीसीसीआई के मीडिया मामलों के प्रमुख राजीव शुक्ला ने एक बयान में खिलाड़ियों को जल्दी बुलाने के श्रीलंका बोर्ड के फ़ैसले को ग़लत बताया था.

शुक्ला ने कहा था, "हमारे हिसाब से श्रीलंकाई खिलाड़ियों को यहाँ पर 21 मई तक रुकना था क्योंकि ये उनका वादा था और टीमें भी यही मानकर चल रही थीं. मगर अब वे जल्दी जाना चाहते हैं जो कि सही नहीं है."

श्रीलंकाई टीम के कई अहम खिलाड़ी आईपीएल में हिस्सा ले रहे हैं जिनमें पूर्व कप्तान कुमार संगकारा और महेला जयवर्द्धने अपनी-अपनी टीमों के कप्तान हैं जबकि श्रीलंका के नए कप्तान तिलकरत्ने दिलशान बंगलौर टीम का हिस्सा हैं.

संबंधित समाचार