बंगाल की हिंसा से गृह मंत्री चिंतित

  • 17 मई 2011

गृह मंत्री पी चिदंबरम ने पश्चिम बंगाल में चुनाव के बाद हो रही हिंसा पर चिंता जताई है.

उन्होंने राज्यपाल एमके नारायणन से अपील की है कि वो हिंसा को रोकने के लिए सभी आवश्यक क़दम उठाएँ.

अगरतला में पत्रकारों के साथ बातचीत में उन्होंने कहा, "ये चिंता का विषय है. मैं नहीं जानता कि इसके लिए किसे ज़िम्मेदार ठहराया जाए. सोमवार की रात मैंने राज्यपाल से बातचीत की है और उनसे सभी आवश्यक क़दम उठाने को कहा है."

गृह मंत्री ने कहा कि हिंसा कतई बर्दाश्त नहीं की जाएगी. उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में चुनाव के बाद तीन हिंसा की घटनाएँ हुई हैं.

अपील

पी चिदंबरम ने कहा कि उन्होंने इस मामले में तृणमूल कांग्रेस के नेता और राज्य की भावी मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और तृणमूल के महासचिव मुकुल रॉय से भी बात की है.

गृह मंत्री ने राज्य की सभी राजनीतिक पार्टियों से भी हिंसा रोकने की अपील की है और उम्मीद जताई है कि सभी पार्टियाँ उनकी अपील पर अमल करेंगी.

चिदंबरम ने माओवादियों से भी हिंसा का रास्ता छोड़ने की अपील की है. पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में तृणमूल कांग्रेस गठबंधन की शानदार जीत हुई है.

इस गठबंधन ने पश्चिम बंगाल में पिछले 34 वर्षों से चले आ रही वामपंथी सरकार को सत्ताच्युत कर दिया है. ममता बनर्जी शुक्रवार को राज्य के नए मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेंगी.

संबंधित समाचार