दो बेहतरीन टीमों का महामुक़ाबला

इमेज कॉपीरइट

दुनिया की दो बेहतरीन फ़ुटबॉल टीमें मैनचेस्टर युनाइटेड और बार्सिलोना आज लंदन में यूरोपीय चैम्पियंस लीग के फ़ाइनल में भिड़ रही हैं.

चैम्पियंस लीग की प्रसिद्धि वैसे ही दुनिया के सबसे लोकप्रिय क्लब प्रतियोगिता में है. लेकिन जब इंग्लैंड और स्पेन की चैम्पियन टीमें चैम्पियंस लीग के फ़ाइनल में आमने-सामने हों तो कोई संदेह नहीं कि ये साल का सबसे बड़ा फ़ुटबॉल मैच साबित हो.

यदि दोनों चैम्पियन टीमों ने अपनी ख्याति के अनुरूप खेल दिखाया तो शर्तिया ये मुक़ाबला बेहद रोमांचक होगा.

उम्मीद की जा रही है की पूरी दुनिया में 22 करोड़ टेलीविज़न दर्शक मैच का सीधा प्रसारण देखेंगे.

अलग शैली वाली टीमें

इस बार के चैम्पियंस लीग फ़ाइनल में दुनिया भर के फ़ुटबॉल दीवानों की कुछ ज़्यादा ही दिलचस्पी इसलिए है कि मैनचेस्टर युनाइटेड और बार्सिलोना की खेल शैली एक दूसरे से जुदा है.

इमेज कॉपीरइट
Image caption बार्सिलोना के स्टार मेसी के प्रदर्शन पर होगी विशेष नज़र

कई फ़ुटबॉल पंडितों की नज़र में इतिहास की सबसे महान क्लब टीम मानी जाने वाली मौजूदा बार्सिलोना टीम जहाँ फ़ुर्तीली, धैर्यवान और मारक हमले करने वाली मानी जाती है, वहीं अभी-अभी 19वीं बार इंग्लिश प्रीमियर लीग का ख़िताब जीतने वाली मैनचेस्टर युनाइटेड को बड़े मौक़ों पर सफलता की आदत-सी लगी हुई है.

ये मुक़ाबला बार्सिलोना के स्टार मेसी और मैनेचस्टर के स्टार रूनी के बीच ही नहीं, इन टीमों के कोच जोसेप गार्दियोला और एलेक्स फ़र्गुसन के भी बीच है.

मैनचेस्टर युनाइटेड टीम के लिए हौसला बढ़ाने वाली बात ये भी है कि घरेलू समर्थकों के बीच वह उसी वेम्बली मैदान पर उतरेगी जहाँ उसने 1968 पहली यूरोपीय ट्रॉफ़ी जीती थी.

टीम के उस्ताद एलेक्स फ़र्गुसन ने आज के मैच को दशक के सबसे बड़ा फ़ुटबॉल मैच के रूप में याद किए जाने की भविष्यवाणी की है. यानि फ़र्गुसन की मानें तो ये 2009 जैसा एकतरफ़ा मुक़ाबला नहीं होगा जब बार्सिलोना ने चैम्पियंस लीग फ़ाइनल में युनाइटेड को 2-0 से पटखनी दी थी.

संबंधित समाचार