आततायी सरकार का अत्याचार: सुषमा स्वराज

सुषमा स्वराज
Image caption सुषमा स्वराज ने कहा कि बाबा रामदेव का मनोबल अब भी मज़बूत है.

हरिद्वार पहुंची बीजेपी नेता सुषमा स्वराज से बाबा रामदेव से मुलाक़ात के बाद कहा कि दिल्ली के रामलीला मैदान पर हुई घटना नागरिक अधिकारों का हनन और आततायी सरकार अत्याचार था.

सुषमा स्वराज ने कहा कि काले धन के मुद्दे पर अनशन कर रहे बाबा रामदेव की सेहत थोड़ी गिरी है लेकिन उनका मनोबल अभी मज़बूत है.

लोकसभा में विपक्ष की नेता सुषमा स्वराज ने कहा कि भ्रष्टाचार और काले धन को स्वेदश लाने के मुद्दे पर पहले से ही बने हुए हैं लेकिन दिल्ली के रामलीला मैदान की घटना के बाद नागरिक अधिकारों के हनन का मुद्दा भी जुड़ गया है.

प्रधानमंत्री के इस बयान पर कि उन्हें रामलीला मैदान पर हुई घटना दुर्भाग्यपूर्ण थी, सुषमा स्वराज ने कहा," मुझे हैरानी है कि प्रधानमंत्री कहते हैं कि जो घटना वहां घटी वो दुर्भाग्यपूर्ण तो थी लेकिन उसके अलावा कोई चारा नहीं था. लेकिन मैं प्रधानमंत्री से ये पूछना चाहूंगी कि घटना तो घट गई लेकिन उसके बाद सोनिया गांधी और प्रधानमंत्री घायलों को दे्खने क्यों नहीं गए? और यहां तक कि उनके एक मंत्री पूरा दिन गरज-गरज कर कहते रहे कि एक भी व्यक्ति को चोट नहीं आई. मैं स्वयं अस्पताल गई. वहां 35 घायल लोग भर्ती थे."

सुषमा स्वराज ने कहा कि आईसीयू में भर्ती राजबाला के अलावा झारखंड के सुनील कुमार और हिमाचल प्रदेश रविंद्र कुमार भी गंभीर अवस्था में दिल्ली के अस्पतालों में भर्ती हैं.

उधर दूरदर्शन को दिए एक इंटरव्यू में केंद्रीय गृह मंत्री पी चिदंबरम ने कहा है कि रामलीला मैदान पर हुई पुलिस कार्रवाई में 39 लोग घायय हुए थे जिनमें चार को छोड़कर सभी प्राथमिक उपचार के बाद घर चले गए थे.

'वज़न गिरा लेकिन मनोबल क़ायम'

बाबा रामदेव से मुलाक़ात के बाद सुषमा स्वराज ने कहा,"मुझे इस बात का तो दुख है कि उनका स्वस्थ थोड़ा गिर रहा है लेकिन इस बात की ख़ुशी है कि उनका मन पूरी तरह मज़बूत है. उनका वज़न करीब साढ़े पांच किलो कम हुआ लेकिन उनका मनोबल पहले से अधिक हुआ है."

कांग्रेस के इस आरोप पर बाबा रामदेव के तार आरएसएस से जुड़े हैं, स्वराज ने कहा,"ये कांग्रेस की चाल है. हर काम के पीछे इन्हें आरएसएस दिखाई देती है. ये वही लोग हैं जिन्होंने जयप्रकाश जी को सीआईए का एजेंट कहा था." इससे पहले सुबह बाबा रामदेव ने कहा था कि वे जल्द ही 11 हज़ार युवाओं की एक सेना तैयार करेंगे. उन्होंने कहा था कि इस सेना में 35 से 40 साल के बीच के युवा और युवतियां होंगी.

संबंधित समाचार