अफ़रीदी खेल सकेंगे काउंटी क्रिकेट

  • 15 जून 2011
शाहिद अफ़रीदी इमेज कॉपीरइट Getty

लंबे विवाद के बाद पाकिस्तान के क्रिकेट बोर्ड ने पूर्व कप्तान शाहिद अफ़रीदी को ब्रिटेन में काउंटी क्रिकेट खलेने की आज्ञा दे दी है.

शाहिद अफ़रीदी के पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड यानी पीसीबी के साथ हुए समझौते के तहत देर से ही सही लेकिन अफ़रीदी हैम्पशायर काउंटी क्लब के लिए खेलेंगे.

शाहिद अफ़रीदी के वकील उमरान खान ने इस बात की पुष्टि करते हुए कहा है कि पीसीबी ने उन्हें 'नो ऑब्जेक्शन' देने के लिए हामी भर दी है.

उन्होंने ये भी कहा कि अब शाहिद अफ़रीदी अगले हफ्ते से हैम्प्शायेर टीम का हिस्सा हो सकेंगे.

हैम्प्शायेर की टीम इन दिनों टी-20 क्रिकेट की एक प्रतियोगिता में हिस्सा ले रही है.

बीबीसी से हुई बातचीत में अफ़रीदी के वकील उमरान खान ने कहा, "शाहिद अफ़रीदी और इजाज़ बट के बीच हुई मुलाक़ात सकारात्मक रही. दोनों पक्षों ने एकमत होकर आम सहमति से ये फ़ैसला लिया है."

अफ़रीदी बनाम पीसीबी

दो हफ्ते पहले पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेट कप्तान शाहिद अफ़रीदी ने राष्ट्रपति आसिफ़ अली ज़रदारी से मदद की गुहार लगाई थी और पाकिस्तान क्रिकेट को संकट से उबारने की अपील की थी.

शाहिद अफ़रीदी के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने उनका अनुबंध समाप्त कर दिया था.

अपने साथ हुए बर्ताव से खिन्न होकर 31 वर्षीय शाहिद अफ़रीदी ने बोर्ड के वर्तमान सदस्यों पर हमला बोलते हुए कहा था कि यह लोग पाकिस्तानी क्रिकेट पर कलंक हैं.

उस फ़ैसले के बाद शाहिद अफ़रीदी को विदेश में भी क्रिकेट खेलने की आधिकारिक इजाज़त नहीं मिल सकी थी.

नतीजन शाहिद अफ़रीदी न तो इंग्लैंड की 20-20 लीग में हैम्प्शायर की तरफ से खेल पा रहे थे और न ही अगले महीने शुरू हो रही श्रीलंका प्रीमियर लीग में. हालांकि शाहिद अफ़रीदी के साथ किए गए पीसीबे के बर्ताव की पाकिस्तान में व्यापक निंदा हुई थी.

पूर्व खिलाड़ी और कप्तान इमरान खान और कई बड़े राजनेता अफ़रीदी के समर्थन में सामने आए थे.

संबंधित समाचार