विश्व कप सफल लेकिन खामियां भी

  • 29 जून 2011
इमेज कॉपीरइट wiki
Image caption विश्व कप के दौरान कुछ स्टेडियम समय पर तैयार नहीं हो पाए थे.

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने 2011 में हुए विश्व कप का आयोजन सफल तो रहा था लेकिन टिकट व्यवस्था और स्टेडियम निर्माण में कई कमियां रहीं.

आईसीसी की दो दिन की सालाना बैठक के बाद जारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि विश्व कप विश्व स्तरीय आयोजन रहा लेकिन समस्याओं को नज़रअंदाज़ नहीं किया जा सकता.

आईसीसी कार्यकारी बोर्ड ने इस मामले में वित्तीय एवं वाणिज्य मामलों की समिति की इस सिफारिश को मंज़ूरी भी दे दी है कि आईसीसी के आयोजनों के लिए क्रिकेट स्टेडियम कम से कम छह महीने पहले पूरी तरह तैयार होने चाहिए.

आईसीसी ने टिकट बिक्री में कालाबाज़ारी के आरोपों की जांच के लिए फोरेंसिक आडिटरों की नियुक्ति की भी घोषणा की है.

अध्यक्ष पद

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने अध्यक्ष पद की नामांकन प्रक्रिया में संशोधन का प्रस्ताव टालने का फ़ैसला किया है.

हांगकांग में आईसीसी के कार्यकारी बोर्ड की बैठक में आईसीसी की पूरी प्रशासकीय प्रक्रिया और ढाँचे की स्वतंत्र समीक्षा कराने का फ़ैसला किया गया है.

ये समीक्षा आईसीसी के कार्यकारी बोर्ड की अक्तूबर में होने वाली बैठक से पहले पूरी हो जाएगी.

इस बीच बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड और पाकिस्तानी क्रिकेट बोर्ड ने यह शपथपत्र लिखकर दिया है कि वे समीक्षा से पहले उपाध्यक्ष पद के लिए किसी को नामंकित नहीं करेंगे.

अन्य फैसले

आईसीसी ने घोषणा की है कि भारत और इंग्लैंड के बीच 21 जुलाई से होने वाले टेस्ट मैच के लिए विशेष समारोह का आयोजन किया जाएगा.

ऐसा इसलिए किया जाएगा क्योंकि यह मैच टेस्ट क्रिकेट के इतिहास का 2000वां टेस्ट होगा.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption मुंबई मे हुए फाइनल की टिकटों को लेकर भी बवाल हुआ था.

आईसीसी के मुख्य कार्यकारी हारुन लॉरगेट का कहना था, ‘‘ यह एक बड़ी उपलब्धि है और हम इस आयोजन का उत्सव मनाएंगे.’’

आईसीसी ने अपने कामकाज की समीक्षा की भी घोषणा की लेकिन आईसीसी अध्यक्ष के चुनाव की प्रक्रिया में फेरबदल किए जाने के प्रस्ताव को खारिज़ कर दिया है.

आईसीसी की प्रशासन समिति ने सिफारिश की थी कि संगठन के काम काज की स्वतंत्र रुप से समीक्षा होनी चाहिए और स्वतंत्र निदेशकों की नियुक्ति होनी चाहिए. इसके लिए आईसीसी तैयार हो गया है और कामकाज की समीक्षा अक्तूबर से पहले पूरी की जाएगी.

पाकिस्तान में क्रिकेट में हो रहे उथल पुथल के मद्देनज़र आईसीसी ने पाकिस्तान टास्क टीम का गठन किया था जिसने अपनी रिपोर्ट सौंप दी है.

इस रिपोर्ट में पाकिस्तान क्रिकेट प्रशासन, आधारभूत ढांचे, वित्तीय व्यवस्था, संचार और खेल से जुड़े कई मामलों में कुल 63 सिफारिशें की गई हैं.

लोर्गाट का कहना था कि आईसीसी ने सभी सिफारिशें स्वीकार की हैं और पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने भी इन सिफारिशों पर विचार करने का वादा किया है. पीसीबी अपनी अगली बोर्ड बैठक में इन सिफारिशों पर विचार करेगा.

संबंधित समाचार