पहली पारी में भारत को मिली बढ़त

  • 1 जुलाई 2011
इशांत इमेज कॉपीरइट BBC World Service

बारबाडोस में खेले जा रहे भारत और वेस्ट इंडीज़ के दूसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन वेस्ट इंडीज़ की टीम पहली पारी में कुल 190 के स्कोर पर ऑल आउट हो गई. भारत की ओर से इशांत शर्मा ने बेहतरीन गेंदबाज़ी करते हुए 55 रन देकर छह विकेट लिए.

भारत ने दूसरी पारी में बिना कोई विकेट खोए 23 रन बनाए हैं और इस तरह से उसे 34 रनों की बढ़त हासिल है. भारत की पहली पारी 201 रन पर सिमट गई थी.

तीसरे दिन बारिश के कारण खेल बार-बार रुका और फिर कम रोशनी के कारण समय से पहले ही तीसरे दिन का खेल समाप्त हो गया.

सेम्यूल्स ने 78 रन बनाए

जब दूसरे दिन का खेल समाप्त हुआ था तब भारत के 201 रनों के जवाब में वेस्ट इंडीज़ की टीम 98 रनों पर पाँच विकेट गँवा चुकी थी.

लेकिन मार्लोन सेम्यूल्स और चंद्रपॉल दूसरे दिन ही वेस्ट इंडीज़ की पारी को कुछ संभालने के प्रयास में 41 रनों की साझेदारी निभा चुके थे.

इसके बाद तीसरे दिन जब वेस्ट इंडीज़ का स्कोर 134 रन था तब चंद्रपॉल 37 रनों के व्यक्तिगत स्कोर पर मिथुन की गेंद पर बोल्ड हो गए.

उनके बाद आए बौघ हरभजन की गेंद पर धोनी को कैच थमा बैठे जब उन्होंने केवल दो रन ही बनाए थे. टीम का स्कोर उस समय 143 रन था.

आठवें विकेट के लिए सैमी ने सेम्यूल्स के साथ मिलकर कुछ टिकने की कोशिश की लेकिन वे 15 रन बनाकर इशांत शर्मा की गेंद पर बोल्ड हो गए.

इस तरह वेस्ट इंडीज़ का स्कोर आठ विकेट के नुक़सान पर 186 हो गया. फिर तो जल्द ही रामपॉल और एडवर्ड्स को भी इशांत शर्मा ने पेविलियन पहुँचा दिया और वेस्ट इंडीज़ की पहली पारी 190 रनों पर सिमट गई. सेम्यूल्स ने आठ चौके लगाकर 78 रन बनाए और नाबाद रहे.

भारत के लिए इशांत ने 55 रन देकर छह विकेट, मिथुन ने 34 रन देकर दो विकेट, कुमार और हरभजन ने एक-एक विकेट ली.

बारिश ने काफ़ी खेल बिगाड़ा और जब तीसरे दिन का खेल समाप्त हुआ तो सलामी बल्लेबाज़ मुकुंद आठ रन बनाकर और विजय तीन रन बनाकर नॉट आउट थे.

संबंधित समाचार