इक्कीस साल बाद भारत ने सिरीज़ जीती थी

  • 19 जुलाई 2011
इमेज कॉपीरइट BBC World Service

वर्ष 2007 में भारत का इंग्लैंड दौरा काफ़ी अहम माना जाता है. भारत ने 2007 में टेस्ट श्रृंखला 1-0 से जीतकर 21 साल बाद इंग्लैंड को उसी की धरती पर हराने में सफलता पाई थी. 1986 के बाद ये इंग्लैंड में भारत की पहली टेस्ट सिरीज़ जीत थी.

इस टेस्ट श्रृंखला के तहत लॉर्ड्स में खेला गया पहला टेस्ट मैच ड्रॉ रहा था हालाँकि उस मैच में इंग्लैंड की टीम जीत के क़रीब थी.

जबकि नॉटिंघम में खेले गए दूसरे टेस्ट मैच में भारत ने इंग्लैंड को हराकर सिरीज़ में शानदार वापसी की. ज़हीर खान ने इस मैच में बेहतरीन गेंदबाज़ी करते हुए नौ विकेट लिए थे.

ओवल में खेला गया तीसरा और आख़िरी टेस्ट मैच ड्रॉ रहा था. इस मैच में भारत ने पहली पारी में 664 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया था. इसके जवाब में इंग्लैंड ने पहली पारी में 345 रन बनाए थे.

इस टेस्ट मैच में पहली पारी के आधार पर 319 रनों की बढ़त हासिल करने के बावजूद भारत ने इंग्लैंड को फ़ॉलोऑन नहीं कराया. इस फ़ैसले पर काफ़ी सवाल उठे थे.

ओवल टेस्ट मैच में भारत की ओर से अनिल कुंबले ने बल्ले और गेंद दोनों से बेहतरीन प्रदर्शन किया था. कुंबले ने इस टेस्ट मैच में अपने करियर का पहला शतक लगाया और कुल पाँच विकेट भी लिए थे.

2007 की टेस्ट सिरीज़ में भारत के ज़हीर ख़ान और इंग्लैंड के जेम्स एंडरसन मैन ऑफ़ द सिरीज़ चुने गए थे.

हालांकि इसके बाद खेली गई वनडे सिरीज़ में इंग्लैंड ने भारत को 4-3 से हरा दिया था.

संबंधित समाचार