भारतीय गेंदबाज़ों की कलई खुली

केविन पीटरसन इमेज कॉपीरइट Getty Images

बहुचर्चित लॉर्ड्स टेस्ट का दूसरा दिन इंग्लैंड की बेहतरीन बल्लेबाज़ी के नाम रहा और स्टार रहे पिछले कुछ समय से ख़राब फ़ॉर्म में चल रहे केविन पीटरसन. पीटरसन ने दोहरा शतक लगाया और नाबाद रहे.

दूसरी ओर भारतीय गेंदबाज़ी की कमियाँ उभरकर सामने आईं. ज़हीर ख़ान मैदान पर नहीं आए.

गेंदबाज़ी के मोर्चे पर हालात इतने ख़राब रहे कि कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को दो बार विकेटकीपिंग के दस्ताने निकालकर गेंदबाज़ी करनी पड़ी. दो स्पेल में उन्होंने आठ ओवर गेंदबाज़ी की.

लेकिन ज़हीर ख़ान की ग़ैर मौजूदगी ने प्रवीण कुमार ने मोर्चा संभाला और 106 रन देकर पाँच विकेट लिए.

प्रदर्शन

इंग्लैंड ने पहली पारी आठ विकेट पर 474 रन बनाकर समाप्त घोषित कर दी. जवाब में दूसरे दिन का खेल ख़त्म होने तक भारत ने बिना कोई विकेट गँवाए 17 रन बना लिए थे.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption प्रवीण कुमार ने पाँच विकेट लिए

अभिनव मुकुंद आठ और गौतम गंभीर सात रन बनाकर नाबाद हैं.

पहली पारी के आधार पर अब भी भारतीय टीम 457 रन पीछे है और उसे फ़ॉलोऑन बचाने के लिए और 258 रनों की आवश्यकता है.

इंग्लैंड के रनों के अंबार में सबसे बड़ा योगदान रहा केविन पीटरसन का. पीटरसन 202 रन बनाकर नाबाद रहे. अपनी पारी में उन्होंने 21 चौके और एक छक्का लगाया.

गेंदबाज़ी

लॉर्ड्स टेस्ट के दूसरे दिन इंग्लैंड ने दो विकेट पर 127 रन से आगे खेलना शुरू किया.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption कप्तान धोनी ने आठ ओवर गेंदबाज़ी की

160 रन के स्कोर पर भारत को तीसरी सफलता मिली, जब जोनाथन ट्रॉट 70 रन बनाकर आउट हुए. उनका विकेट प्रवीण कुमार को मिला.

उसके बाद इयन बेल और पीटरसन ने भारतीय गेंदबाज़ों के छक्के छुड़ा दिए. पीटरसन और बेल ने चौथे विकेट के लिए 110 रन जोड़े.

बेल 45 रन बनाकर आउट हुए. मार्गन बिना खाता खोले आउट हुए, तो लगा कि भारतीय कैंप में उत्साह की लहर दौड़ आई है.

लेकिन मैट प्रायर और पीटरसन ने एक बार फिर भारतीय गेंदबाज़ों की कलई खोल कर रख दी. मैट प्रायर ने 71 रन बनाए. ग्रैम स्वान 24 रन बनाकर आउट हुए. जैसे ही पीटरसन ने दोहरा शतक पूरा किया, कप्तान स्ट्रॉस ने पारी समाप्त घोषित कर दी.

ज़हीर के दो विकेट के अलावा प्रवीण कुमार को पाँच और सुरेश रैना को एक विकेट मिला.

संबंधित समाचार