माहौल मेसी का, जीत अर्जेंटीना की

  • 2 सितंबर 2011
लियोनेल मेसी इमेज कॉपीरइट Getty

पहली बार अर्जेंटीना की फुटबॉल टीम की कप्तानी करते हुए लियोनेल मेसी ने कोलकाता में हुए एक मैत्री मैच में वेनेज़ुएला की टीम पर जीत दर्ज कर की.

शुक्रवार को हज़ारों फु़टबॉल प्रेमियों के मध्य हुए इस बहुचर्चित मैच में अर्जेंटीना ने वेनेज़ुएला को 1-0 से परास्त किया.

बार्सीलोना की ओर से खेलने वाले 24 वर्षीय लियोनेल मेसी ने जब-जब गेंद को छुआ कोलकाता के सॉल्ट लेक स्टेडियम में दर्शक खड़े होकर तालियाँ बजाते रहे.

मेसी ने मैच के 67वें मिनट में एक कॉर्नर किक से गेंद वेनेज़ुएला के डी-बॉक्स में डाली और अर्जेंटीना की रक्षा पंक्ति के खिलाड़ी निकोलस ओतामेंडी ने सर से फुटबॉल को गोल में दाग दिया.

दो बार विश्व विजेता रह चुकी अर्जेंटीना की इस टीम के कोच अलेजान्द्रो साबेला के लिए भी बतौर कोच ये पहला मैच था और जैसे ही उनकी टीम ने पहला और निर्णायक गोल दागा वे भाग कर मैदान में पहुँच गए.

मेसी का जलवा

मैत्री मैच के पहले हाफ़ का खेल बेहद रोचक और तेज़ गति से खेला गया.

लियोनेल मेसी ख़ुद दो बार गोल करने के बहुत करीब तक पहुंचे जबकि नौंवे मिनट में उनके सहयोगी एंजेल डी मरिया मेसी द्वारा फेंके गए एक पास को गोल में बदलने में नाकाम रहे.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption मेसी समर्थक मैच के दौरान गाते-बजाते रहे.

दूसरे हाफ़ के खेल में बेहतरीन तालमेल दिखाते हुए वेनेज़ुएला की टीम ने मैच में वापसी करने की भरपूर कोशिश की.

लेकिन अर्जेंटीना की मज़बूत कही जाने वाली रक्षा पंक्ति के समक्ष वेनेज़ुएला के फॉरवर्ड गोल करने में नाकाम रहे.

हालांकि कोलकाता के फुटबॉल प्रेमियों के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर की इन दोनों टीमों का खेल देखना एक स्वप्न के पूरे होने से कम नहीं रहा.

मैच के शुरू होने से कई घंटे पहले से ही फु़टबॉल प्रेमियों ने हाथों में टिकट लेकर कोलकाता के सॉल्ट लेक स्टेडियम के बाहर कतार लगानी शुरू कर दी थी.

पूरा स्टेडियम मैच के दरमियान दर्शकों से खचाखच भरा रहा और हर दर्शक की निगाह ज़्यादातर मेसी के खेल पर ही थी.

सिर्फ कोलकाता ही नहीं बल्कि पूरे भारत में इस स्तर का अंतरराष्ट्रीय मैच पहली बार आयोजित किया गया है.

संबंधित समाचार