एशियन चैंपियंस ट्रॉफी भारत के नाम

राजपाल सिंह इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption भारत ने पाकिस्तान को हॉकी फ़ाइनल में 4-2 से धूल चटाई.

भारत ने चीन में आयोजित पहली एशियन चैपियंस हॉकी ट्रॉफ़ी के फ़ाइनल मैच में अपने प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को 4-2 से हरा कर ख़िताब अपने नाम कर लिया है.

ज़बर्दस्त रोमांचक मुकाबले में पहले 70 मिनट के निर्धारित समय तक दोनों टीमें कोई गोल नहीं कर पाई. हालांकि दोनों टीमों के खिलाड़ियों ने कई अच्छे आक्रमण बनाए लेकिन गोल करने में नाकामयाब रहे.

इसके बाद 15 मिनट का अतिरिक्त समय दिया गया लेकिन इसके बावजूद ये दोनों टीमें कोई गोल नहीं कर सकी. अतिरिक्त समय में दोनों टीमें थकी हुई लग रही थीं.

अंतत: पैनल्टी शूटआउट का सहारा लिया गया जिसमें भारत 4-2 से विजयी रहा.

पैनल्टी शूटआउट में पाकिस्तान के हासिम ख़ान और शफ़्क़त रसूल गोल करने में नाक़ाम रहे. जबकि भारत की ओर से कप्तान राजपाल सिंह, दानिश मुजतबा, युवराज वाल्मिकी और सरवनजीत सिंह ने गोल किए.

भारत की तरफ से गुरविंदर सिंह चॉडी गोल करने से चूक गए.

हॉकी में काफ़ी समय के बाद भारत ने कोई ट्रॉफी जीती है. इस टूर्नामेंट में भारत का प्रदर्शन बहुत अच्छा नहीं तो कम से कम बेहतर कहा जा सकता है. वैसे इस पूरे टूर्नामेंट में भारत अजेय रहा है.

फाइनल से पहले भारत ने अपने पहले मैच में चीन को 5-0 से हराया था.

इसके अवाला जापान से भारत का मैच 1-1 से ड्रा रहा था.

फाइनल में प्रवेश करने से पहले पाकिस्तान और भारत का एक लीग मैच 2-2 से ड्रा हुआ था.

संबंधित समाचार