इंग्लैंड के गेंदबाज़ ब्रेसनैन पर जुर्माना

  • 22 अक्तूबर 2011
टिम ब्रेसनैन इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption टिम ब्रेसनैन ने अंपायर से टोपी छीनी थी

इंग्लैंड के तेज़ गेंदबाज़ टिम ब्रेसनैन को मैदान पर दुर्व्यवहार की सज़ा अपने मैच फ़ीस का 7.5 प्रतिशत गँवा कर भुगतनी होगी. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) की सुनवाई में ब्रेसनैन को दोषी ठहराया गया.

ये घटना मोहाली में भारत और इंग्लैंड के बीच हुए तीसरे एक दिवसीय मैच की है. इस मैच के दौरान ब्रेसनैन ने फ़ील्ड पर मौजूद अंपायर सुधीर असनानी से अपनी टोपी छीन ली थी.

आईसीसी की सुनवाई के दौरान ब्रेसनैन ने अपने को निर्दोष बताया था, लेकिन आईसीसी ने उन्हें दोषी पाया.

इस मैच में भारत ने पाँच विकेट से जीत हासिल की थी और पाँच मैचों की सिरीज़ में 3-0 की अजेय बढ़त हासिल कर ली है.

बयान

आईसीसी मैच रेफ़री रंजन मदुगले ने सुनवाई और फिर फ़ैसले के बाद एक बयान जारी करके ब्रेसनैन पर जुर्माना लगाने की घोषणा की.

इस बयान में उन्होंने कहा, "अंपायर को सम्मान दिया जाना चाहिए, सिर्फ़ इसलिए नहीं कि वे मैदान पर एक मुश्किल काम करते हैं, बल्कि इसलिए भी क्योंकि लाखों उदीयमान क्रिकेटर और क्रिकेटर बनने की चाहत रखने वाले लोग खिलाड़ियों की हर गतिविधि पर नज़र रखते हैं."

उन्होंने कहा कि इस कारण क्रिकेटरों का व्यवहार और ज़िम्मेदाराना होना चाहिए, ख़ासकर विभिन्न परिस्थितियों में अंपायरों के साथ व्यवहार करते समय.

भारत और इंग्लैंड के बीच चौथा एक दिवसीय मैच 23 अक्तूबर को मुंबई में और पाँचवाँ वनडे 25 अक्तूबर को कोलकाता में खेला जाएगा. एकमात्र ट्वेन्टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच 29 अक्तूबर को कोलकाता में होगा.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार