न्यूज़ीलैंड और फ़्रांस की ख़िताबी टक्कर

  • 22 अक्तूबर 2011
हाका इमेज कॉपीरइट ALL SPORT Getty

रग्बी विश्व कप के फ़ाइनल में रविवार को न्यूज़ीलैंड और फ़्रांस की टीम आमने सामने होंगी.

ऑल ब्लैक्स के नाम से मशहूर न्यूज़ीलैंड की टीम 1987 के बाद एक बार फिर वेब एलिस ट्रॉफ़ी जीतने की कोशिश करेगी.

ऑल ब्लैक्स ने लगातार 6 जीत दर्ज कर 293 अंक के साथ फ़ाइनल में जगह बनाई है. इससे पहले एक लीग मैच में उन्होंने फ़्रांस को 31-17 से हराया था.

इमेज कॉपीरइट AFP Getty
Image caption ऑल ब्लैक्स की टीम प्रबल दावेदार है.

कागज़ पर न्यूज़ीलैंड की टीम फ़्रांस से बीस नज़र आ रही है. लेकिन फ़्रांस के विंगर विन्सेंट क्लेर के मुताबिक फ्रांस की टीम न्यूज़ीलैंड पर भारी पड़ सकती है.

चार साल पहले पिछले विश्व कप के क्वार्टर फ़ाइनल में फ़्रांस ने न्यूज़ीलैंड पर हैरतअंगेज़ जीत हासिल की थी. उस मैच में विंसेट ने बेहतरीन खेल दिखाया था.

कड़ी टक्कर

रविवार को होने वाले फ़ाइनल से पहले उन्होंने कहा, "हम ऑल ब्लैक्स को हराने के लिए बढ़िया मैच खेलने में सक्षम हैं. हम उन्हें अस्थिर कर सकते हैं. हमारी टीम की रक्षापंक्ति को उसी तरह चुस्त रहना होगा जैसा हम वेल्स के खिलाफ़ खेले थे."

ऑल ब्लैक्स के मुख्य कोच ग्राहम हेनरी भी फ़्रांस को कम नहीं आंक रहे हैं. उन्होंने कहा, "वो जीत के लिए पूरी कोशिश करेंगे और हमें इसके लिए तैयार रहना होगा. उनकी फ़ॉरवर्ड लाइन किसी से कम नहीं है.

फ़ाइनल के लिए न्यूज़ीलैंड ने पिछले मैच में ऑस्ट्रेलिया को हराने वाली टीम में कोई बदलाव नहीं किया है.

टीम के खिलाड़ी पिरी वीपु के मुताबिक उनकी टीम इस मौके को हाथ से जाने नहीं देगी. उन्होंने कहा, "मैनें पहले कभी इससे बड़ा अनुभव नहीं किया है. मुझे मैच के दिन का बेसब्री से इंतज़ार है."

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार