सचिन चूके मगर द्रविड़ का शतक

राहुल द्रविड़ इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption द्रविड़ ने 36वाँ टेस्ट शतक जमाया मगर 13 हज़ार रन पूरे करने से चूक गए

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर का 100वाँ अंतरराष्ट्रीय शतक पूरा नहीं हो पाने से निराश भारतीय क्रिकेट प्रेमियों की शतक की चाह भरोसेमंद बल्लेबाज़ राहुल द्रविड़ ने पूरी की जबकि उन्होंने टेस्ट करियर का 36वाँ शतक पूरा कर लिया.

कोलकाता के ईडन गार्डन्स में वेस्टइंडीज़ के विरुद्ध दिन की समाप्ति तक भारत ने पाँच विकेट के नुक़सान पर 346 रन बना लिए हैं.

भारत ने टॉस जीतकर जब पहले बल्लेबाज़ी करने का फ़ैसला किया तभी से सचिन के 100वें शतक की उम्मीद में लोगों का मैदान में पहुँचना शुरू हो गया था.

भारत को गौतम गंभीर और वीरेंदर सहवाग ने तेज़ शुरुआत दी और 33 गेंदों पर आठ चौकों की मदद से 38 रन बनाकर सहवाग डैरेन सैमी की गेंद पर एड्रियन बराठ के हाथों कैच आउट हुए. उस समय भारत का स्कोर 66 रन था.

इसके बाद गंभीर ने अर्द्धशतक पूरा किया और 65 रन के स्कोर पर फ़िडेल एडवर्ड्स की गेंद पर उनका भी कैच बराठ ने ही लपका.

अब क्रीज़ पर भारत के दो वरिष्ठतम बल्लेबाज़ थे और इन दोनों ने भारत के लिए 56 रन जोड़े.

सचिन ने सँभलकर बल्लेबाज़ी शुरू की और जैसे-जैसे उनकी बल्लेबाज़ी आगे बढ़ी ईडन में दर्शक इस उम्मीद में आते चले गए कि शायद वे सचिन के शतक का गवाह बन सकें.

निराश तेंदुलकर

मगर तभी कोटला टेस्ट की तरह कोलकाता में भी देवेंद्र बिशू ने ही सचिन को निशाना बनाया.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption सचिन तेंदुलकर एक बार फिर शतक पूरा नहीं कर सके

सचिन उनकी गेंद पर मार्लन सैमुअल्स को कैच थमा बैठे. उन्होंने 38 रन बनाए.

भारत के एक अन्य वरिष्ठ बल्लेबाज़ और कोलकाता में पहले भी अच्छा प्रदर्शन कर चुके वीवीएस लक्ष्मण और द्रविड़ ने उसके बाद चौथे विकेट के लिए 140 रनों की साझेदारी की.

भारत एक समय तीन विकेट पर 345 रनों के स्कोर पर था और लग रहा था कि मैच के दूसरे दिन भी द्रविड़ और लक्ष्मण ही भारत की पारी शुरू करेंगे. मगर तभी अचानक गिरे दो विकेटों ने भारत को थोड़ा झटका दिया.

पहले द्रविड़ क्रेग ब्राथवेट की गेंद पर बोल्ड हो गए और उसके बाद अगले ही ओवर की तीसरी गेंद पर नाइट वॉच मैन इशांत शर्मा भी केमार रोच की गेंद पर विकेट के पीछे लपके गए.

इस तरह दिन का खेल समाप्त होने तक भारत का स्कोर अचानक पाँच विकेट पर 346 रन हो गया.

सचिन के 100वें शतक की तरह ही लोगों को द्रविड़ के 13 हज़ार टेस्ट रनों का भी इंतज़ार था मगर वह सिर्फ़ 21 रन पहले आउट हो गए. उन्होंने नौ चौकों और दो छक्कों की मदद से 119 रन बनाए.

लक्ष्मण 73 रन बनाकर क्रीज़ पर हैं.

संबंधित समाचार