टेस्ट विश्व कप 2017 से पहले नहीं: आईसीसी

आईसीसी के प्रमुख कार्यकारी हारून लोर्गाट इमेज कॉपीरइट
Image caption लोर्गाट ने कहा टेस्ट क्रिकेट लोकप्रियता को बरक़रार रखने के लिए विश्व श्रृंखला का आयोजन ज़रूरी है.

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद यानि आईसीसी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी हारून लोर्गाट ने कहा है कि साल 2017 से पहले विश्व टेस्ट क्रिकेट श्रृंखला का आयोजन मुमकिन नही है.

आईसीसी साल 2013 में होने वाले 50-50 ओवर्स की चैम्पियंस ट्रॉफ़ी की जगह पर विश्व टेस्ट सिरीज़ ओयोजित करने पर विचार कर रहा था.

टेस्ट क्रिकेट की चार सबसे बेहतर रैकिंग वाली टीमों के बीच ये मुक़ाबला खेले जाने का प्रस्ताव था.

लोर्गाट ने कहा कि उन्हें इस विश्व सिरीज़ का आयोजन साल 2013 में ना हो पाने का दुख है.

समाचार एजेंसी एएफ़पी ने लोर्गाट के हवाले से कहा, "आईसीसी की पिछली बैठक में ये फ़ैसला लिया गया है कि विश्व टेस्ट सिरीज़ का आयोजन साल 2017 तक ही हो सकता है. मुझे दुख है कि ये इससे पहले नहीं हो सकता है. वास्तविकता ये है कि वर्ष 2015 तक हमारी समयसारिणी बनी हुई है."

टेस्ट क्रिकेट का स्तर

लोर्गाट के अनुसार विश्व टेस्ट सिरीज़ के आयोजन से क्रिकेट के इस लंबे संस्करण का स्तर खेल के दूसरे संस्करणो के मुक़ाबले बरक़रार रहेगा.

क्रिकेट के दिग्गजों का मानना है कि टेस्ट क्रिकेट को 50 ओवरों के वन-डे मैच और चर्चित टी20 मैचों से ख़तरा है.

माना जा रहा है कि अगर साल 2013 में विश्व टेस्ट सिरीज़ का आयोजन होता तो ये क्रिकेट का मक्का कहे जाने वाले लॉर्डस के मैदान में खेला जाता.

लॉर्डस के मैदान के कर्ता-धर्ता मैरिलिबोन क्रिकेट क्लब ने इसे टेस्ट क्रिकेट के लिए एक झटका बताया है.

संबंधित समाचार