सिरीज़ और पठान पर होगी नज़र

इरफ़ान पठान इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption इरफ़ान पठान को काफ़ी लंबे समय के बाद टीम में जगह मिली है

भारत और वेस्टइंडीज़ के बीच इंदौर में चौथा एकदिवसीय मैच खेला जाने वाला है जहाँ दोनों ही टीमों के लिए ये जीत काफ़ी अहम होगी.

एक ओर भारत इस जीत के साथ सिरीज़ अपने नाम करना चाहता है तो वहीं वेस्टइंडीज़ की कोशिश शृंखला में बराबरी की है.

इसके अलावा अगर टीम को देखें तो भारत की ओर से इरफ़ान पठान अंतिम 11 में जगह बनाकर प्रदर्शन से प्रभावित करने की उम्मीद लगाए होंगे.

भारतीय टीम के बल्लेबाज़ों ने इस शृंखला में कुछ हद तक निराश ही किया है जहाँ रोहित शर्मा और विराट कोहली के अलावा कोई बल्लेबाज़ बड़ी पारी नहीं खेल सका है.

ऐसे में कप्तान वीरेंदर सहवाग सहित शीर्ष क्रम के अन्य बल्लेबाज़ टिककर खेलने की कोशिश करेंगे.

भारत की ओर से इस सिरीज़ के पहले तीनों मैचों में सबसे बेहतरीन प्रदर्शन रोहित शर्मा का रहा है जिन्होंने पहले मैच में 72, दूसरे में नॉट आउट रहते हुए 90 और तीसरे में 95 रन बनाए.

शीर्ष क्रम

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption भारत की ओर से रोहित शर्मा इस सिरीज़ में सबसे सफल बल्लेबाज़ रहे हैं

उनके अलावा विराट कोहली ने विशाखापट्टनम में हुए वनडे में शतक जमाया था.

सहवाग के साथी सलामी बल्लेबाज़ पार्थिव पटेल ने शुरुआत तो स्थिर की है मगर उस शुरुआत को एक ठोस पारी में वह नहीं बदल पा रहे हैं. उधर विराट कोहली और सुरेश रैना का फ़ॉर्म अगर ऐसा ही रहा तो भारतीय टीम के भावी ऑस्ट्रेलियाई दौरे के लिए मुश्किल हो सकती है.

भारत ने टीम में एकमात्र परिवर्तन उमेश यादव की जगह इरफ़ान पठान को लाकर किया है. पठान काफ़ी लंबे समय से राष्ट्रीय टीम से बाहर हैं.

माना जा रहा है कि उन्हें अंतिम 11 खिलाड़ियों में जगह मिल सकती है और उस सूरत में उन्हें अपने प्रदर्शन से इस चयन को सही साबित करना होगा.

अब तक भारत के अनुभवहीन गेंदबाज़ अंतिम के ओवरों में रन पिटवाकर शुरुआती अच्छी गेंदबाज़ी की धार को कम कर रहे हैं. ऐसे में उन पर भी अंतिम ओवरों में फिर दबाव होगा.

वेस्टइंडीज़ प्रदर्शन

इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption वेस्टइंडीज़ टीम ने उम्मीद से बेहतर प्रदर्शन किया है

वेस्टइंडीज़ की ओर से बल्लेबाज़ों और गेंदबाज़ों ने अब तक संतोषजनक प्रदर्शन ही किया है.

रवि रामपॉल ने गेंदबाज़ी के साथ ही साथ बल्लेबाज़ी में भी जौहर दिखाए हैं. उनके अलावा कप्तान सैमी भी गेंद और बल्ले से टीम को मदद कर रहे हैं.

इस तरह रामपॉल, केमार रोच और आंद्रे रसल की तिकड़ी भारत को परेशान करती चली आ रही है.

वेस्टइंडीज़ के लिए चिंता की बात फ़ॉर्म में चल रहे बल्लेबाज़ डैरेन ब्रावो की चोट हो सकती है. उनके चौथे वनडे में नहीं खेलने पर बाक़ी बल्लेबाज़ों पर कुछ दबाव आ सकता है.

भारत शृंखला में 2-1 से आगे है और पाँचवाँ और अंतिम वनडे 11 दिसंबर को चेन्नई में खेला जाएगा.

संबंधित समाचार