मेलबर्न टेस्ट में भारतीय बल्लेबाज़ धाराशाई, टीम को मिली हार

क्रिकेट इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption विदेशी दौरे पर पहले टेस्ट में भारतीय टीम की हार का सिलसिला मेलबर्न में भी जारी रहा.

विदेशी दौरे के पहले टेस्ट में भारतीय टीम के ख़राब प्रदर्शन का सिलसिला बरक़रार रहा है. मेलबर्न टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 122 रनों से हरा दिया है.

ऑस्ट्रेलिया ने दूसरी पारी में 240 रन बनाए और पहली पारी की 51 रनों की बढ़त को मिलाकर भारत के सामने जीत के लिए 292 रनों का लक्ष्य रखा.

लेकिन ऑस्ट्रेलिया की अच्छी गेंदबाज़ी और भारतीय टीम की साधारण बल्लेबाज़ी के कारण भारतीय टीम दूसरी पारी में 169 रन पर ऑल आउट हो गई और भारत को पहले मैच में बड़ी हार का सामना करना पड़ा.

गुरुवार को चौथे दिन की सुबह ऑस्ट्रेलिया के निचले क्रम के बल्लेबाज़ों ने अच्छा प्रदर्शन किया और आख़िरी दो विकेट के लिए 74 रन जोड़े.

ऑस्ट्रेलिया के लिए हसी ने सबसे ज़्यादा 89 रन बनाए. भारत के लिए उमेश यादव ने चार विकेट और ज़हीर खान ने तीन विकेट लिए.

भारत की दूसरी पारी

जीत के लिए 292 रन का पीछा करते हुए भारत की शुरुआत एक बार फिर ख़राब रही.

इस पिच पर बल्लेबाज़ों को जम कर खेलने की ज़रूरत थी, लेकिन भारतीय बल्लेबाज़ जल्दबाजी में दिखाई दिए जिसका ख़मियाज़ा उन्हें भुगतना पड़ा.

विरेंद्र सहवाग लंच से ठीक पहले हिल्फ़ेनहउस की गेंद पर गली में हसी को कैच थमा बैठे.

भोजन के बाद गंभीर ने स्लिप में पोंटिंग को कैच थमा दिया जबकि राहुल द्रविड़ पैंटिंसन की अंदर आती गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गए.

भारत ने 58 रन पर तीन विकेट खो दिए थे और उस वक्त टीम को बड़ी साझेदारी की ज़रूरत थी.

लेकिन लक्ष्मण एक रन बनाकर और विराट कोहली खाता खोले बिना ही पवेलियन लौट गए.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption ऑस्ट्रेलिया के लिए माइकल हस्सी ने दूसरी पारी में सबसे ज़्यादा 89 रन बनाए.

इन सब के बीच सचिन तेंदुलकर शॉट्स खेल रहे थे और बढ़िया लय में दिख रहे थे. लेकिन 32 रन बनाकर पीटर सिडल की गेंद को कट करने के प्रयास में कॉवन को कैच थमा बैठे.

सिडल ने पहली पारी में भी सचिन को 73 रनों पर आउट किया था और उस विकेट के बाद भारत की पारी ढह गई थी.

अश्विन ने इसके बाद तेज़ी से 30 रन जोड़े लेकिन वो भी सिडल का शिकार बने.

पैटिंसन ने ज़हीर खान और कप्तान धोनी को आउट करके भारतीय पारी का अंत क़रीब ला दिया.

बढ़िया गेंदबाज़ या ख़राब बल्लेबाज़ी?

मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड की पिच से खेल के चौथे दिन भी तेज़ गेंदबाज़ों को मदद मिल रही थी.

ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज़ों ने भी अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन अगर भारतीय टीम का स्कोरकार्ड देखें तो पता चलेगा कि ज़्यादातर बल्लेबाज़ ख़राब शॉट्स खेलते हुए आउट हुए.

ऑस्ट्रेलिया के दस नंबर पर खेलने वाले पैटिंसन ने दूसरी पारी में 37 रन बनाए जो भारत की दूसरी पारी में किसी भी बल्लेबाज़ के स्कोर से अधिक था.

मेलबर्न में जीत के साथ ही मेज़बान ऑस्ट्रेलिया ने चार मैच सिरीज़ में एक-शून्य से बढ़त ले ली है.

दूसरा टेस्ट मैच तीन जनवरी से सिडनी में खेला जाएगा.

संबंधित समाचार