हम ख़राब बल्लेबाज़ी के कारण हारे: धोनी

  • 29 दिसंबर 2011
ज़हीर ख़ान के आउट होने पर ऑस्ट्रेलियाई ख़ेमे में खुशी की लहर इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption ऑस्ट्रेलिया के कप्तान माइकल क्लॉर्क ने जीत का श्रेय अपने तेज़ गेंदबाज़ों को दिया है

भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने टीम की ख़राब बल्लेबाज़ी को मेलबर्न टेस्ट में हार की वजह बताया है.

पहले टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 122 रनों से हराकर चार मैचों की श्रंखला में 1-0 की बढ़त ले ली है.

इस मैच में भारत ने पहली पारी में 282 रन और दूसरी पारी में 179 रन बनाए.

दूसरी पारी में भारतीय टीम पचास ओवर भी नहीं खेल सकी और पूरी टीम 47 ओवर पाँच गेंदों में आउट हो गई.

मैच के बाद भारतीय कप्तान ने कहा कि दूसरी पारी में बड़ी साझेदारी नहीं निभाने के कारण टीम को ये हार मिली है.

मैच के बाद धोनी ने कहा, “हमारे गेंदबाज़ों ने अच्छी गेंदबाज़ी की और बल्लेबाज़ों ने भी पहली पारी में ठीक रन बनाए. दूसरी पारी शुरू होने से पहले मैच बराबरी पर चल रहा था लेकिन हमें अच्छी शुरुआत नहीं मिली और हमारे बल्लेबाज़ साझेदारी नहीं बना सके जिसकी वजह से हम हारे.”

जीत का श्रेय तेज़ गेंदबाज़ों को

ऑस्ट्रेलिया के कप्तान माइकल क्लार्क ने जीत का श्रेय अपने तेज़ गेंदबाज़ों को दिया. क्लार्क ने कहा, “पिच पर गेंदबाज़ों को मदद मिल रही थी और बल्लेबाज़ों के लिए जमना मुश्किल था. लेकिन इसके बावजूद मैं अपने गेंदबाज़ों से श्रेय नहीं छीनना चाहता. उन्होंने बेहतरीन गेंदबाज़ी की है.”

वहीं तेज़ गेंदबाज़ जेम्स पैटिंसन को मैन ऑफ़ द मैच पुरस्कार मिला. पैटिंसन ने कहा, “जब सचिन तेंदुलकर ने अपना पहला मैच खेला था, उस समय मेरा जन्म भी नहीं हुआ था. ऐसे बल्लबाज़ों का विकेट लेना मेरे लिए गर्व की बात है. बॉक्सिंग डे टेस्ट में ऐसी टीम के खिलाफ़ खेलना, विकेट लेना और मैच जीतना मेरे लिए सपना पूरा होने जैसा है.”

भारतीय कप्तान धोनी ने माना कि विदेशी दौरे पर पहला मैच हारना भारतीय टीम की कमज़ोरी बन चुकी है लेकिन इसके बावजूद टीम वापसी कर सकती है.

धोनी ने कहा कि इस मैच से भी टीम को कई सकारात्मक परिणाम मिले हैं.

उन्होंने कहा, “टेस्ट मैच जीतने के लिए 20 विकेट लेना ज़रूरी होता है, वो हमने कर के दिखाया. हमारे बल्लेबाज़ों ने भी पहली पारी में दिखाया कि वो यहां साझेदारी निभा सकते हैं.”

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार