दहाड़ते हुए हारे 'बांग्लादेशी टाइगर्स'

बांग्लादेशी खिलाड़ी इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption कई बांग्लादेशी खिलाड़ी फूट-फूट कर रो रहे थे

एशिया कप के फाइनल में मेजबान बांग्लादेश को मिली सिर्फ दो रन से हार ने बांग्लादेशियों का दिल तोड़ दिया.

कई खिलाड़ी इस हार को पचा नहीं पाए और फूट-फूट कर रोने लगे.

लेकिन क्रिकेट जगत ने बांग्लादेश की दिलेरी की सराहना की है. बांग्लादेश के अखबारों ने भी अपनी टीम की पीठ थपथपाई है.

बांग्लादेश के प्रमुख अखबार डेली स्टार ने शीर्षक लगाया है- टाइगर्स गो डाउन रोरिंग यानी दहाड़ते हुए हारे बांग्लादेशी टाइगर्स.

अखबार लिखता है कि पाकिस्तान ने बांग्लादेश को क्रिकेट इतिहास का सबसा बड़ा जश्न मनाने का मौका नहीं दिया. लेकिन बांग्लादेश ने उसे अच्छी टक्कर दी.

दुर्भाग्य

बांग्लादेश टुडे ने लिखा है कि मेजबान बांग्लादेश का भाग्य ने साथ नहीं दिया. अखबार लिखता है कि आखिरी ओवर में बांग्लादेश को सिर्फ नौ रनों की आवश्यकता थी, लेकिन पाकिस्तानी गेंदबाज चीमा ने संयम से गेंदबाजी की और बांग्लादेश की उम्मीदों को तोड़ दिया.

डेली फ्रंटियर ने भी बांग्लादेश की सराहना करते हुए लिखा है कि बांग्लादेश भले ही मैच हार गया, लेकिन उसने लोगों का दिल जीत लिया.

डेली सन ने लिखा है कि बांग्लादेश की टीम जीतते-जीतते रह गई. अखबार ने लिखा है कि मेजबान टीम बहुत कम अंतर से मैच हारी.

अखबार ने लिखा है कि कप्तान मुशफिकुर रहमान का रोना सारी कहानी कह रहा था.

पाकिस्तान ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 236 रन बनाए थे. जवाब में बांग्लादेश की टीम सिर्फ 234 रन ही बना पाई.

संबंधित समाचार