आंसुओं के बीच राहुल द्रविड ने कहा शुक्रिया

  • 28 मार्च 2012
राहुल द्रविड़ इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में राहुल द्रविड़ ने 23,000 से भी ज्यादा रन बनाए हैं.

अपने आंसुओं को बमुश्किल रोकते हुए भारत के पूर्व क्रिकेटर राहुल द्रविड़ ने कहा है कि भारत के लिए खेलने का सपना 16 साल तक पूरा करने के बाद उन्हें इस बात का पूरा भरोसा है कि भविष्य में भारतीय क्रिकेट और ऊंचाइयों को छूएगा.

भारतीय क्रिकेट के पूर्व और मौजूदा नामचीन सितारे मुंबई में बीसीसीआई द्वारा आयोहित एक समारोह में शामिल हुए जिसका उद्देश्य राहुल द्रविड़ को सम्मानित करना था.

इस विशेष समारोह को संबोधित करते हुए राहुल द्रविड़ ने कहा, "मैंने अपने आप से समझौता किया था कि आज अपने आंसुओं को रोक के रखूँगा, लेकिन उनका भी पूरा इम्तेहान ले लिया गया है."

मुंबई के प्रसिद्ध ताज लैंड्स एंड होटल में आयोजित किए गए इस समारोह में सुनील गावस्कर, मोहिंदर अमरनाथ, दिलीप वेंगसरकर, अजित वाडेकर, बापू नडकर्णी सौरव गांगुली समेत कई मशहूर क्रिकेट सितारे एकत्रित हुए थे.

महेंद्र सिंह धोनी के नेतृत्व वाली मौजूदा भारतीय टीम भी इस जलसे में शामिल हुई.

हालांकि मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर इस समारोह में शिरकत करते नहीं नज़र आए.

'द वाल' के कसीदे

सौरव गांगुली, अनिल कुंबले, महेंद्र सिंह धोनी और वीवीएस लक्ष्मण जैसी हस्तियों ने इस मौके पर मंच से राहुल द्रविड़ के बारे में अपने विचार रखे और उनकी तारीफों के पुल बांधे.

इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption राहुल की निरंतर तारीफ करने वाले सचिन के न होने से कई लोग निराश दिखे.

सौरव गांगुली ने अपने साथ खेलने वाले पूर्व उप-कप्तान राहुल द्रविड़ के बारे में बात करते हुए कहा कि वे न केवल भारतीय क्रिकेट बल्कि विश्व क्रिकेट के भी महानतम बल्लेबाजों में से एक हैं.

भारतीय टीम के मौजूदा कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने कहा, "राहुल भाई ने टीम को यह सिखाया है कि कैसे मुश्किलों का सामना करते हुए आगे बढ़ना चाहिए, न कि उनसे बचते हुए. क्रिकेट सीखने वाले किसी भी युवा खिलाड़ी के लिए राहुल द्रविड़ हमेशा एक मिसाल रहेंगे."

बाद में राहुल द्रविड ने भी मंच से कहा, "मुझे पूरी उम्मीद है कि महेंद्र सिंह धोनी और उनकी युवा टीम भारतीय क्रिकेट को और ऊंचाइयों तक ले जाएगी."

आखिरकार नाम आँखों से राहुल द्रविड़ ने समारोह में शामिल हुए सभी लोगों का धन्यवाद दिया.

उन्होंने कहा, "करीब तीन हफ्ते पहले मैंने संन्यास लेने की घोषणा की थी. मुझे रोज़ जिम जाने में थोड़ी मशक्कत करनी पड़ती है और अगले दो महीने तक आईपीएल मुझे व्यस्त रखेगा. मैं अब टीम इंडिया के लिए नहीं खेलूँगा लेकिन उनके मैचों को टीवी के सामने चाय के प्याले और बिस्कुट के साथ ज़रूर देखता रहूँगा." हालांकि सचिन तेंदुलकर के साथ साथ इस समारोह में भारत के पूर्व क्रिकेट कप्तान कपिल देव भी मौजूद नहीं थे लेकिन कई तमाम खेल पत्रकारों समेत पुराने क्रिकेट सितारों का अच्छा जमावड़ा देखा गया.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार