चेल्सी ने जीती इंग्लिश एफए कप ट्रॉफी

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption चेल्सी के गोल ड्रोग्बा और रामिरेज ने किए.

चेल्सी ने इंग्लिश एफए कप की ट्रॉफी जीत ली है. शनिवार रात वेंबली में खेले गए फाइनल मुकाबले में चेल्सी ने लिवरपूल को 2-1 से हरा दिया.

चेल्सी के लिए रामिरेज और ड्रोग्बा ने गोल किए जबकि लिवरपूल का एकमात्र गोल कैरौल ने किया.

हालांकि मैच के आखिरी क्षणों में लिवरपूल को लगा कि उन्होंने बराबरी कर ली है लेकिन रेफरी ने गोल को नहीं माना जिसपर लिवरपूल के खिलाड़ियों ने खूब हंगामा मचाया.

मैच के पहले हाफ के 11वें मिनट में चेल्सी के रामिरेज के शॉट पर लिवरपूल के गोलकीपर पेपे रेना चूक कर बैठे और चेल्सी को बढ़त मिल गई.

दूसरे हाफ के 52वें मिनट में में एफए कप के पहले के फाइनल मैचों में भी स्टार खिलाड़ी की भूमिका निभाने वाले दिदिए ड्रोग्बा ने कमाल दिखाया और चेल्सी को 2-0 से आगे कर दिया.

वेंबली में खेले गए मैचों में ड्रोग्बा का ये चौथा गोल है.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption वेंब्ली में खेले गए मैचों में ड्रोग्बा का ये चौथा गोल है.

दो गोलों की बढ़त से चेल्सी ने मैच में अपनी पकड़ मजबूत कर ली.

हालांकि लिवरपूल के खिलाड़ियों ने ज्यादा समय तक गेंद अपने पास रखी लेकिन लंबे समय तक वो चेल्सी की रक्षा पंक्ति को भेद नहीं पाए.

चेल्सी के दूसरे गोल के बाद लिवरपूल ने फॉरवर्ड पंक्ति में स्पियरिंग को हटाकर कैरौल को मैदान पर उतारा और इसका फायदा टीम को मिला. 64 वें मिनट में चेल्सी के गोलकीपर को छकाते हुए कैरौल ने गोल कर लिपरपूल का खाता खोल दिया.

विवाद

मैच खत्म होने से कुछ मिनट पहले कैरोल ने सुआरेज के क्रास पर हेडर से गोल पोस्ट पर निशाना लगाया. चेल्सी के गोलकीपर पीटर चेक ने छलांग लगाते हुए उस गेंद को रोका लेकिन बॉल उनके हाथ से टकराते हुए गोल बार से टकराई.

लिपरपूल के खिलाड़ियों को लगा की गेंद गोल-लाइन पार कर गई है और ये गोल है लेकिन दोनों ही रैफरियों ने इसे गोल नहीं माना और खेल जारी रखने की सीटी बजाई.

लिपरपूल के खिलाड़ियों ने इस फैसले का विरोध किया लेकिन टीवी पर दिखाए गए रीप्ले से भी ये साफ नहीं हो पाया की ये गोल था या नहीं.

इंगिलश एफए कप की इस जीत के बाद चेल्सी का हौसला बढ़ा है और वो महीने के अंत में चैंपियंस लीग के फाइनल मुकाबले में जर्मनी के बायर्न म्यूनिख के खिलाफ नए उत्साह के साथ उतरेगी.

संबंधित समाचार