स्मिथ ने दिलाई मुंबई इंडियंस को रोमांचक जीत

इमेज कॉपीरइट AFP Getty

इंडियन प्रीमियर लीग में एक और मैच आखिरी ओवर की आखिरी गेंद पर ख़त्म हुआ है. मुंबई इंडियंस ने इस मैच में चेन्नई सुपर किंग्स को दो विकेट से हराया है.

मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में चेन्नई की टीम के 173 रनों का पीछा करते हुए मुंबई इंडियन्स को मैच के आख़िरी ओवर में 16 रन चाहिए थे.

बल्लेबाज़ी कर रहे थे लसिथ मलिंगा और ड्वेन स्मिथ.

चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए आख़िरी ओवर डालने आए ऑस्ट्रेलिया के तेज़ गेंदबाज़ बेन हिल्फ़ेनहाउस.

स्मिथ ने पहली गेंद पर एक रन लिया और मलिंगा गेंदबाज़ के सामने आ गए. दूसरी गेंद पर हिल्फेनहाउस ने मलिंगा का मिडल स्टंप उखाड़ दिया.

पैसा वसूल मैच

वानखेडे़ स्टेडियम में मायूसी छा गई क्योंकि कुछ ही देर पहले उनकी टीम के छह खिलाड़ी 12 रनों के भीतर आउट हो गए थे. इनमें से चार तो अपना खाता भी नहीं खोल पाए थे.

लेकिन कहते हैं ना कि क्रिकेट महान अनिश्चितताओं का खेल है.

जीत के लिए अब भी 15 रन चाहिए थे लेकिन गेंद अब सिर्फ़ चार बचीं थीं.

नए बल्लेबाज़ आरपी सिंह ने तीसरी गेंद पर एक रन लिया और ड्वेन स्मिथ हिलफ़ेनहाउस के सामने आ गए.

अब तीन गेंदों पर जीत के लिए 14 रन चाहिए थे. मुंबई के खेमे में मायूसी छाई हुई थी. लेकिन स्मिथ का इरादा कुछ और ही था.

हिल्फेनहाउस ने यॉर्कर के चक्कर में फ़ुल टॉस गेंद डाली और स्मिथ लॉन्ग-ऑन बाउंड्री के ऊपर से छक्का जड़ दिया.

मुंबई का वानखेड़े स्टेडियम ख़ुशी से झूम उठा.

दर्शकों को भारी शोर के बीच गेंदबाज़ ने पांचवी गेंद दागी. और एक बार फिर यॉर्कर की कोशिश में फुल टॉस दे बैठे. स्मिथ ने गेंदबाज़ के सिर के ऊपर से गेंद सीमा रेखा से बाहर पहुंचाकर चौका कमाया.

अंतिम गेंद पर चार रन चाहिए थे. हिल्फ़ेनहाउस ने इस बार गुड लेंथ गेंद डाली लेकिन स्मिथ ने क्रीज़ पर टिके रहते हुए उसे बाउंड्री के बाहर मैच जिताऊ चौके के लिए भेज दिया.

और इस तरह से स्मिथ ने अपनी टीम को एक लगभग हारा हुआ मैच जिता दिया. और स्मिथ को इसके लिए मैन ऑफ़ द मैच का ख़िताब भी दिया गया.

ताबड़तोड़ तेंदुलकर

इमेज कॉपीरइट AFP Getty
Image caption तेंदुलकर ने 11 चौक्कों और एक छक्के की सहायता से 74 रन बनाए.

इससे पहले मुंबई इंडियन्स ने टॉस जीता और चेन्नई की टीम को बल्लेबाज़ी के लिए बुलाया.

चेन्नई सुपरकिंग्स ने मुरली विजय के 41, सुरेश रैना के 36, ड्वेन ब्रावो के 40 और धोनी के 25 रनों के सहारे 173 का स्कोर खड़ा किया.

मुंबई के लिए लसिथ मलिंगा और रुद्र प्रताप सिंह ने एक बार फिर बढ़िया गेंदबाज़ी करते हुए तीन-तीन विकेट झटके.

इस स्कोर का पीछा करने उतरी मुंबई इंडियंस की टीम की पहली विकेट तो आठ के स्कोर पर ही गिर गई लेकिन इसके बाद मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने पारी को संभाला.

बढ़िया फॉर्म में दिख रहे तेंदुलकर ने 11 चौक्कों और एक छक्के की सहायता से 74 रन बनाए. रोहित शर्मा ने बखूबी उनका साथ देते हुए 60 रनों का अहम योगदान दिया.

लेकिन इनके आउट होते ही टीम संकट में दिखी. क्योंकि इसके बाद अंबटी रायुडू, रॉबिन पीटरसन, हरभजन सिंह और लसिथ मलिंगा शून्य पर आउट हो गए.

मलिंगा आखिरी ओवर की पहली गेंद पर आउट हुए तो उनकी जगह आरपी सिंह मैदान आए और उन्होंने एक रन लेकर डवाएन स्मिथ को गेंदबाज़ के सामने भेज दिया. बाकी चार गेंदों की दास्तान तो आप पढ़ ही चुके हैं.

संबंधित समाचार