शाहरुख के वानखेड़े में प्रवेश पर पांच साल की पाबंदी

  • 18 मई 2012
शाहरुख खान इमेज कॉपीरइट AP
Image caption शाहरुख खान ने पलटवार करते हुए एमसीए अधिकारियों पर आरोप लगाए थे

मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन ने बुधवार रात वानखे़ड़े स्टेडियम में हुई घटना के बाद बॉलीवुड स्टार शाहरुख खान के वानखेड़े में प्रवेश पर पांच साल की पाबंदी लगा दी है.

बुधवार रात को जहाँ मुंबई क्रिकेट संघ के अधिकारियों ने शाहरुख पर बदतमीजी का आरोप लगाया था वहीं बॉलीवुड स्टार और कोलकाता नाईट राइडर्स के मालिक शाहरुख खान ने प्रत्यारोप में कहा थी कि पहले एमसीए के अधिकारियों ने बच्चों से बदतमीजी की थी.

इसके बाद आईपीएल के चेयरमैन राजीव शुक्ला ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि इस मामले में अंतिम फैसला भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) लेगी.

यदि एमसीए का फैसल सही ठहराया जाता है तो शाहरुख पांच साल तक मुंबई के वानखेडे़ स्टेडियम में प्रवेश नहीं कर पाएंगे.

मुंबई क्रिकेट संघ के अध्यक्ष विलासराव देशमुख और अन्य अधिकारियों ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि एमसीए के अधिकारियों ने संयम से काम लिया था नहीं तो स्थिति बहुत ही खराब हो सकती थी.

ममता का समर्थन

इस बीच यह मामला राजनीतिक रंग लेता जा रहा है. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने एमसीए को इस फैसले पर दोबारा से गौर करने के लिए कहा है.

उन्होंने कहा, ''हालांकि मेरा इस पर टिप्पणी करना ठीक नहीं होगा मैं अपील करती हूँ कि इस फैसला पर दोबारा से गौर किया जाए.''

उन्होंने आगे कहा, ''कुछ घटनाएं हुई हैं लेकिन शायद उनके बच्चे की वजह से, कुछ जज्बात में आकर.''

शाहरुख खान न केवल आईपीएल की कोलकाता टीम के मालिक हैं बल्कि राज्य के 'ब्रांड अम्बैसेडर' भी हैं.

उधर आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव ने आईपीएल पर लगातार उठ रहे विवादों को देखते हुए मांग की है कि आईपीएल को बंद कर देना चाहिए.

आरोप-प्रत्यारोप

मुंबई क्रिकेट संघ के अधिकारियों ने बुधवार रात को आईपीएल मैच के बाद शाहरुख पर गालियां देने और हाथापाई करने का आरोप लगाया था.

शुक्रवार को संघ का कहना था कि यह प्रतिबंध अन्य लोगों के लिए एक सबक है. उन्होंने कहा कि इसके बारे में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड को लिखा गया है.

शाहरुख ने गुरुवार को अपने बचाव में संघ के अधिकारियों पर निशाना साधा था.

उन्होंने कहा था कि मुंबई क्रिकेट संघ के अधिकारियों ने उनके साथ गए बच्चों और वहां मौजूद एक लड़की से बदतमीजी की जिसके लिए उन्हें माफी मांगनी चाहिए.

गुरुवार को मुंबई में अपने घर पर पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि उन्होंने कोई नशा नहीं किया हुआ था. उन्होंने कहा, ''मैं सामाजिक तौर पर कभी-कभार ही शराब पीता हूँ.''

उन्होंने कहा था कि वे स्टेडियम में अपने बच्चों को लेने गए थे जहां पर उन्होंने देखा कि वहां कुछ अधिकारी बच्चों से बदतमीजी कर रहे थे और एक छोटी लड़की को धक्का दे रहे थे.

शाहरुख ने कहा, ''मैंने उन्हें ऐसा (बदतमीजी) करने से मना किया पर वे नहीं माने. उसके बाद उन्होंने मेरे साथ बदतमीजी की. मैंने गाली दी लेकिन पहले उन लोगों ने गाली दी थी. जिस तरीके से अधिकारी बच्चों से व्यवहार कर रहे थे वो माफी के लायक नहीं है."

क्या अपने करियर की ढलान को बर्दाश्त नहीं कर पा रहे हैं शाहरुख खान?

अधिकारियों का आरोप

मामला बुधवार की रात का है जब आईपीएल का मैच खत्म हुआ था. मुंबई क्रिकेट संघ के अधिकारियों ने उन पर गालियां देने और हाथापाई करने का आरोप लगाया था.

इससे पहले खबर आई थी कि एमसीए वानखेडे़ स्टेडियम में उनके प्रवेश पर आजीवन प्रतिबंध लगाने पर विचार कर रहा है.

विलासराव देशमुख ने पत्रकारों से बातचीत में कहा था, "उन पर पाबंदी लगाने का प्रस्ताव है. इस पर एमसीए की प्रबंधन कमेटी जल्द से जल्द बैठक करेगी.''

समाचार एजेंसी पीटीआई ने एमसीए के कोषाध्यक्ष रवि सावंत के हवाले से कहा, ''उन्होंने आईपीएल मैच के बाद एमसीए के सुरक्षाकर्मियों और हमारे अध्यक्ष विलासराव देशमुख सहित एमसीए के अधिकारियों से गलत व्यवहार किया. हमने उन पर स्टेडियम में भविष्य में प्रवेश करने पर आजीवन प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है.''

ये घटना कोलकाता की मुंबई इंडियंस पर शानदार जीत के बाद हुई. बेहतरीन गेंदबाजी करते हुए कोलकाता की टीम ने मुंबई इंडियंस पर 32 रन की जीत हासिल कर चैंपियनशिप में प्ले ऑफ यानी अंतिम चार में जगह बना ली है.

सावंत ने कहा कि मैच के बाद शाहरुख और उनके अंगरक्षक टीम के ड्रेसिंग रूम में गए और फिर नीचे आ गए और मैदान की तरफ जा रहे थे.

उन्होंने कहा, ''सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें ऐसा करने से मना किया क्योंकि मैच खत्म हो चुका था जिसके बाद शाहरुख ने अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया. उनके लोगों ने हाथापाई भी की. हम इसके बारे में उनके खिलाफ पुलिस से भी शिकायत करेंगे.''

उन्होंने कहा कि वे भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआई को भी इस घटना से अवगत करवाएंगे.

संबंधित समाचार