एडिनबरा में फिर दौड़ेंगे फौजा सिंह

  • 28 मई 2012
Image caption फौजा सिंह की उम्र 101 साल है

दुनिया के सबसे बुजुर्ग मैराथन धावक फौजा सिंह 10 वें एडिनबरा मैराथन फेस्टिवल में 27 हजार से ज्यादा लोगों के साथ दौड़ लगाने के लिए तैयार हैं.

इस साल अप्रैल में लंदन मैराथन में परचम लहराने के बाद फौजा सिंह भले ही मैराथन को अलविदा कह चुके हैं, लेकिन उन्होंने एडिनबरा फेस्टिवल की रिले दौड़ में दौड़ने का मन बना लिया है.

एडिनबरा मैराथन फेस्टिवल में रिले दौड़ के साथ ही 26 मील की पूरी मैराथन, हाफ मैराथन के साथ-साथ 10 और पांच किलोमीटर की दौड़ भी होगी.

फौजा सिंह ने कुल आठ मैराथन में हिस्सा लिया है जिनमें लंदन और न्यूयॉर्क मैराथन शामिल हैं. उनके लिए टोरंटो मैराथन काफी यादगार रहा है क्योंकि इसी से उन्हें विश्व के सबसे बुजुर्ग मैराथन धावक का खिताब मिला.

हालांकि उनकी उम्र को लेकर थोड़ा विवाद भी है, क्योंकि उनके पास जन्म प्रमाणपत्र नहीं है.

बड़ा आयोजन

एडिनबरा मैराथन फेस्टिवल, स्कॉटलैंड में दौड़ का सबसे बड़ा आयोजन है. ब्रिटेन में मैराथन की बात करें तो ये आयोजन लंदन मैराथन के बाद दूसरा बड़ा आयोजन है.

इस साल के एडिनबरा मैराथन फेस्टिवल में दुनिया के कुछ बेहतरीन खिलाड़ी नजर आएंगे. खेल की दुनिया के इन सितारों में कीनिया के 33 वर्षीय जेचरी किहारा भी होंगे जिनके नाम मैराथन दौड़ दो घंटे, 15 मिनट, 46 सेकेंड में पूरी करने का कीर्तिमान दर्ज है.

वर्ष 2003 में शुरू हुए एडिनबरा मैराथन फेस्टिवल का आर्थिक महत्व भी है. इस आयोजन के जरिए तीन करोड़ पाउंड की रकम जुटाई जा चुकी है.

एडिनबरा मैराथन फेस्टिवल के निदेशक नील किलगौर का कहना है, ''ये भरोसा करना मुश्किल है कि एक दशक बीत गया जब हमने ये आयोजन शुरू किया था. हमें इस बात की खुशी है कि हमने इसे ब्रिटेन के एक बड़े और स्कॉटलैंड के मुख्य खेल आयोजन के तौर पर विकसित कर लिया है.''

संबंधित समाचार