सानिया-भूपति फ्रेंच ओपन फाइनल में

sania इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption सानिया मिर्जा और महेश भूपति ने बुधवार को सेमीफाइनल में जेलिना वोस्कोवोएया और डेनियल ब्रासियाली को 6-3,6-2 से हराया

सानिया मिर्जा और महेश भूपति की जोड़ी बुधवार को फ्रेंच ओपन के मिक्स्ड डबल्स के फाइनल में पहुंच गई है.

इन दोनों ने जेलिना वोस्कोवोएया और डेनियल ब्रासियाली को एक घंटे 10 मिनट तक चले मुकाबले में 6-3, 6-2 से हराया.

इस भारतीय जोड़ी का एक साथ यह दूसरा ग्रैंड स्लैम फाइनल होगा. पिछले साल दोनों ने आस्ट्रेलियन ओपन का खिताब जीता था जबकि 2008 में ये उप-विजेता रहे थे.

इस जोड़ी ने पहली बार फ्रेंच ओपन के फ़ाइनल में जगह बनाई है.

वैसे ये दोनों तीन बार किसी ग्रैंड स्लैम का फाइनल खेल चुके हैं.

सानिया 2009 में कोई ग्रैंड स्लैम जीतने वाली पहली भारतीय महिला बनी थीं जबकि भूपति 11 खिताब जीत चुके हैं. इनमें सात मिक्स्ड डबल्स की ट्रॉफी हैं.

फेडरर व जोकाविच की टक्कर

वैसे फ्रेंच ओपन के फाइनल से ज्यादा टेनिस प्रेमियों को शुक्रवार का इंतजार रहेगा. उस दिन सेमीफाइनल में रोजर फेडरर और नोवाक जोकाविच 26वीं बार एक दूसरे के सामने होंगे.

क्वार्टर फाइनल में फेडरर ने जुआन मार्टिन डेल पोट्रो को 3-6,6-7,6-2,6-0,6-3 से हराया जबकि जोकोविच ने जो विलफ्रेड सोंगा के खिलाफ अपना मैच 6-1,5-7,5-7,7-6, 6-1 से जीता.

दोनों के बीच अब तक हुए 25 मुकाबलों में फेडरर 14 जीते हैं जबकि जोकोविच ने 11 बार बाजी मारी है. लेकिन हाल के प्रदर्शन को देखते हुए जोकोविच के सामने फेडरर को बहुत मेहनत करनी पड़ेगी.

रोमांच भरे क्वार्टर फाइनल में जोकोविच सोंगा के खिलाफ चार मैच प्वाइंट बचाने में कामयाब रहे.

जीत के बाद उन्होंने कहा, " मैं रॉजर के बारे में ज्यादा बात नहीं करना चाहता. हम सभी उनकी क्वालिटी जानते हैं. सभी को टूर्नामेंट के अहम दौर में उनसे हमेशा उनके बेहतरीन प्रदर्शन की उम्मीद होती है."

उन्होंने कहा, “पिछले साल हम दोनों के बीच बेहतरीन मैच हुआ था. फेडरर ने उस मैच में गजब की टेनिस खेली थी.”

फेडरर ने कहा, “मुझे अंदाजा है कि जोकोविच के खिलाफ खेलते समय मुझे अपना शीर्ष टेनिस खेलना होगा. हालांकि यह देखना अहम होगा कि वह कितने फिट हैं. यकीनन मुझे अंदाजा है कि मुझे कितना उम्दा खेलना होगा ”.

बहराल शीर्ष वरीय जोकोविच के लिए यह टूर्नामेंट लगातार सभी चार ग्रैंड स्लैम जीतने का मौका है.

अगर ऐसा हुआ तो वह यह मुकाम हासिल करने वाले तीसरे खिलाड़ी होंगे. हालांकि पिछले साल फ्रेंच ओपन के सेमीफाइनल में जोकोविच फेडरर से चार सेट ही हार गए थे.

सामंथा बनाम सारा

महिला वर्ग में आस्ट्रेलिया की सामंथा स्टॉसर और इटली की सारा इरानी सेमीफाइनल में एक दूसरे के खिलाफ खेलेंगी.

स्टॉसर ने स्लोवाकिया की डोमिनिका सिवुल्का को 6-4,6-1 से हराया.

इरानी को भी जर्मनी की एंजलिक क्रेबर को 6-3,7-6 से हराने में कोई दिक्कत नहीं हुई. उधर, मारिया शारापोवा भी एस्टोनिया की किया कानेपी को 6-2,6-3 से हरा कर सेमीफाइनल में पहुंच गईं.

संबंधित समाचार