पिता ने कहा, ओलंपिक के पुरुष युगल में नहीं खेलेंगे पेस

इमेज कॉपीरइट
Image caption लंदन पेस के लिए छठा ओलंपिक्स होगा

भारत के सबसे सफल और अनुभवी टेनिस खिलाड़ी लिएंडर पेस के पिता ने कहा है कि लिएंडर पेस अब लंदन ओलंपिक में पुरुष युगल मुकाबलों में नहीं खेलेंगे.

लिएंडर पेस के पिता डॉ. वेस पेस ने बीबीसी से बातचीत में कहा कि लिएंडर इस घटनाक्रम से 'पूरी तरह टूट चुके हैं'.

हालांकि उन्होने यह नहीं कहा कि लिएंडर पेस ओलंपिक में जाएँगे ही नहीं और कहा कि चूंकि अभी सानिया मिर्ज़ा का ही लंदन ओलंपिक में भाग लेना तय नहीं है इसलिए अभी यह काल्पनिक सवाल है.

गुरुवार को ऑल इंडिया टेनिस एसोसिएशन ने लंदन ओलंपिक के लिए दो टीम भेजने का फैसला किया था.

संघ के फैसले में लिएंडर पेस विष्णु वर्धन के साथ खेलेंगे, जबकि महेश भूपति और रोहन बोपन्ना साथ-साथ खेलेंगे.

वहीं मिक्स्ड डबल्स में लिएंडर और सानिया मिर्जा साथ-साथ खेलेंगे.

'टूट गए हैं पेस'

डॉ. पेस ने कहा, "हमारे पास सिर्फ तीन अच्छे डबल्स के खिलाड़ी है. लिएंडर नंबर एक खिलाड़ी है और उस आधार पर उन्हें अपना जोड़ीदार चुनने का अधिकार था. तार्किक तो ये होता कि पहले और दूसरे नंबर के खिलाड़ी साथ खेलते, लेकिन दो और तीन नंबर साथ हैं और प्रदर्शन के हिसाब से नंबर एक खिलाड़ी के साथ एक कम वरीयता वाले खिलाड़ी हैं. पेस का उनके साथ खेलना गलत होगा और अब उनके साथ कोई और रास्ता नहीं बचा है."

लिएंडर के पिता डॉ. पेस ने कहा कि एक सोची समझी योजना के तहत लिएंडर को अकेला छोड़ा गया. साथ ही उन्होंने कहा कि लिएंडर बेहद निराश हैं.

उन्होंने कहा, "लिएंडर पूरी तरह टूट चुके हैं. वो देश के लिए खेलने में बेहद गर्व महसूस करते हैं. उन्हें अपने छठे ओलंपिक में खेलने का भी इंतजार था."

वहीं बीबीसी के साथ बातचीत में महेश भूपति ने इस फैसले पर खुशी जताई है और कहा है कि वे ओलंपिक के लिए कड़ी मेहनत करेंगे.

संबंधित समाचार