ओलंपिक:भारतीय तीरंदाजों की लचर शुरुआत

दीपिका कुमारी इमेज कॉपीरइट bbc
Image caption लंदन ओलंपिक में जिन भारतीय खिलाड़ियों से पदक की उम्मीद की जा रही है, उनमें तीरंदाज दीपिका कुमारी का नाम सबसे उपर है

लंदन ओलंपिक में भारतीय तीरंदाज़ों की शुरुवात लचर रही है. रैंकिंग राउंड के बाद भारतीय पुरुष टीम को सबसे नीचे 12वीं रैंकिग मिली है.

वहीं दीपिका कुमारी, बोमबाल्या देवी और चेक्रोवूलू स्वूरो की संयुक्त महिला टीम को नौंवी रैंकिग मिली है.

महिला तींरंदाज़ी में भारत की सबसे बड़ी उम्मीद और मौजूदा विश्व नम्बर एक दीपिका कुमारी को आठवी रैंकिग मिली हैं.

लेकिन उद्धाटन समारोह से पहले हुई इस प्रतिस्पर्धा में दो विश्व रिकॉर्ड कायम हुए हैं.

दक्षिण कोरियाई खिलाड़ी इम डॉग ह्युन ने व्यक्तिगत स्पर्धा में विश्व रिकार्ड के साथ रैंकिंग दौर में अव्वल स्थान हासिल किया है.

इम डॉग ह्युन दृष्टि बाधित खिलाड़ी हैं. अपने व्यक्तिगत रिकॉर्ड के अलावा उनके दो सहयोगियों के साथ उनकी टीम ने इस प्रतिस्पर्धा में सर्वश्रेष्ठ टीम का रिकॉर्ड भी बनाया.

गौरतलब है कि ये तीरंदाज़ी का रैंकिंग राउंड था और मेडल के लिए पहला मुकाबला (पुरुष टीम) शनिवार को और दूसरा (महिला टीम) रविवार को होगा.

लॉर्ड्स बना तीरंदाजी का मैदान

इस तरह से लंदन ओलंपिक के उद्घाटन समारोह से पहले ही भारतीय खिलाडियों के लिए लंदन ओलंपिक का आगाज हो गया.

क्रिकेट का मक्का कहे जाने वाले लॉर्ड्स मैदान को ओलंपिक के लिए तीरंदाजी की रणभूमि बनाया गया है.

दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी दीपिका से रिकर्व तीरंदाजी में व्यक्तिगत और टीम इवेंट में मेडल की सबसे ज्यादा उम्मीदें हैं.

18 साल की दीपिका पहली बार ओलंपिक में हिस्सा ले रही है.

साल 2010 कॉमनवेल्थ गेम्स में दीपिका कुमारी गोल्ड जीत चुकी हैं, लेकिन उनका सपना ओलंपिक मेडल जीतने का है.

पुरुषों की टीम में भारत की ओर से जयंत तालुकदार, तरुणदीप राय और राहुल बनर्जी चुनौती पेश कर रहे हैं.

पुरुष एकल मुकाबलों में तरुणदीप राय को 31 वीं, राहुल बैनर्जी को 46 वीं और जयंत तालुकदार को 53 वीं रैंकिग मिली हैं.

अब टीम स्पर्धा में खिलाड़ी एक दूसरे के खिलाफ नॉकआउट मुकाबले खेलेंगे.

संबंधित समाचार